EXCLUSIVE : खारी नदी से दिन-रात हो रहा रेती का अवैध दोहन, नदी पेटे में दर्जनों खड्डे

शिकायतों के बाद भी जिम्मेदार नहीं दे रहे ध्यान

By: laxman singh

Published: 25 Apr 2018, 08:59 AM IST

लसानी. अदालती रोक के बावजूद कस्बे के बीच से होकर गुजर रही खारी नदी से अवैध रूप से बजरी का दोहन धड़ल्ले से सिर्फ रात में ही नहीं दिन में भी किया जा रहा है। इसको लेकर ग्रामीणों द्वारा कई बार की गई शिकायतों के बावजूद जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहे। खारी नदी से कस्बे के साथ ही आसपास के क्षेत्रों में भी भूजल स्तर प्रभावित होता है। ऐसे में नदी से रेती का दोहन होने से भूजल स्तर लगातार नीचे उतरता जा रहा है। इसके चलते क्षेत्र के कुंओ में पानी काफी नीचे उतरता जा रहा है। ऐसे में अगर बजरी दोहन इसी तरह चलता रहा तो आने वाले गर्मी के दो माह में यहां जल संकट की स्थिति काफी गंभीर हो सकती है। ग्रामीणों ने बताया पूर्व में रेती दोहन नहीं होने समय कुंओ में पानी पर्याप्त रहने से पेयजल संकट तो दूर की बात रही, खेतों में फसलों की बुवाई भी काफी अच्छी होती थी। ऐसे में क्षेत्र में लगातार दिन और रात हो रहे बजरी के दोहन को लेकर ग्रामीण जिम्मेदार विभाग एवं प्रशासन तक कई बार शिकायत कर चुके, लेकिन इस पर ध्यान नहीं दिया गया। यहां एक-दो बार सिर्फ औपचारिकता करते हुए रेती के ट्रैक्टर जब्त किए गए, लेकिन रेती के दोहन को स्थायी तौर पर रोकने के लिए कोई ठोस उपाय नहीं किए गए। यही कारण है कि बजरी माफिया ने नदी से रेत का दोहन करते हुए इसके पेटे को पूरी तरह उबड़-खाबड़ बनाते हुए पूरी तरह गड्ढों में तब्दिल कर दिया है। हालत यह है कि रेती दोहन के कारण नदी से होकर दो गांवों को जोडऩे वाला मार्ग तक खोद डाला है, जिससे ग्रामीणों को आवागमन में भी दिक्कत होती है। वहीं, बारिश के दौर में पानी भरने पर इन गड्ढ़ो से हादसे की आशंका भी रहेगी।

श्मशान का रास्ता भी नहीं छोड़ा
बजरी माफिया ने अवैध दोहन करते हुए नदी से होकर श्मशान की ओर जाने वाले रास्ते को भी नहीं छोड़ा। इसको लेकर ग्रामीणों के द्वारा विरोध किए जाने पर वे दुव्र्यवहार से लेकर मारपीट तक उतर आते हैं।

चौपाल में भी नहीं हुई सुनवाई
ग्रामीणों ने कई बार लिखित में रात्रि चौपाल के दौरान उपखण्ड स्तर और कलक्टर तक को शिकायत की, लेकिन उसके बाद भी प्रशासन इसके प्रति उदासीन ही बना हुआ है। इसको लेकर ग्रामीणों द्वारा जिम्मेदार विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत की आशंका भी व्यक्त की गई है।

laxman singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned