राजस्थान के वरिष्ठ आरएएस अधिकारी टीकचंद बोहरा ने लिखी ‘मां से प्यारा नाम नहीं...’ काव्य कृति : राजसमंद में किया विमोचन

अणुविभा में समाोह पूर्वक हुआ विमोचन

By: laxman singh

Published: 12 Nov 2017, 01:14 PM IST

राजसमंद. सांसद हरिओमसिंह राठौड ने कविता, साहित्य कलम और कलम के साथ विचारों के महत्व पर कहा कि विचार हमारे मन में आते है, उठते हैं और वे हमें प्रेरणा भी प्रदान करते हैं। नजरिया सकारात्मक होना चाहिए। वहीं ‘मां’ शब्द एक ऐसा शब्द है जिसका कहीं भी विरोध नहीं हुआ।


सांसद राठौड़ शनिवार को जिला मुख्यालय पर अणुव्रत विश्व भारती सभागार में कृतिकार आरएएस अधिकारी टीकम चन्द बोहरा ‘अनजाना’ के कविता संग्रह ‘मां से प्यारा नाम नहीं’ के आयोजित विमोचन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि विचारों की अभिव्यक्ति, उन्हे केप्चर करना और उसकी प्रस्तुति करना ही महत्वपूर्ण है। विचार प्रेरणा देते है। लेखनी स्थायित्व है। समारोह में जिला कलक्टर पीसी बैरवाल ने भी विचार व्यक्त किए। समारोह में अतिरिक्त जिला कलक्टर बृजमोहन बैरवा ने लघु कविताओं की सहज प्रस्तुति दी। बैरवा ने शब्द का व्याख्यान करते हुए एक रोचक कविता प्रस्तुत की, तो लोगों ने तालियां बजाकर उत्साहवर्धन किया। फिर फतहलाल अनोखा ने बोहरा के जीवन चरित्र का वर्णन करते हुए उनके द्वारा लिखी गई कविताओं के बारे में मार्मिक काव्य प्रस्तुति दी।
इस अवसर पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष देवकीनंदन गुर्जर, साहित्यकार कमर मेवाड़ी, त्रिलोकी मोहन पुरोहित ने टी.सी. बोहरा को संवेदनशील, राष्ट्रीय भावना से ओतप्रोत सृजक बताया। कृति एवं कृतिकार पर आलेख नगेन्द्र मेहता ने प्रस्तुत किया। शिक्षाविद् डॉ. राकेश तैलंग का आलेख गल्र्स कॉलेज प्राचार्य राजेन्द्र पूर्बिया ने प्रस्तुत किया। समारोह में कृतिकार बोहरा ने कृति की चार कविता प्रस्तुत करते हुए कहा कि राजसमन्द कांकरोली में साहित्य विधा को पुष्ट करने के संस्कार है जिसके चलते सृजन सहज हो जाता है। समारोह में बोहरा का राजस्थान साहित्यकार परिषद्, श्री द्वारकेश राष्ट्रीय साहित्य परिषद्, काव्य गोष्ठी मंच, रेडक्रॉस सोसायटी, अणुुविभा, श्रीनाथ साहित्य संगम की ओर से अभिनन्दन किया गया।

अधिकतर कविताएं मां को समर्पित
इस कृति की अधिकांश कविताएं मां को समर्पित है। जीवन में मां के स्नेह, प्यार, डांट, फटकार, संघर्ष, परेशानी का विस्तृत वर्णन किया।

laxman singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned