अब कोरोना के आंकड़े छिपाने में जुटी सरकार!

सैम्पलिंग के आंकड़े बढ़ाए, मृत्यु और पॉजिटिव की संख्या घटाई
जिला स्तर पर आंकड़े बताने से भी घबराया विभाग

By: Aswani

Updated: 21 Sep 2020, 07:08 PM IST

राजसमंद. जिले में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब सरकार ने आंकड़े छिपाने का खेल शुरू किया है। बताया जाता है कि सरकार ने जिला स्तर पर कोरोना के आंकड़े जारी करने पर पाबंदी लगा दी है और राज्यस्तर से आए आंकड़े ही बताने के आदेश दिए हैं। राज्यस्तर के आंकड़ों में भी भारी हेरफेर किया गया है। राज्यस्तर से जांचों का ग्राफ तो काफी बढ़ा दिया गया है जबकि कोरोना से हुई मौतों, संक्रमितों की संख्या विभागीय आंकड़ों के अनुसार भी काफी कम कर दी गई है।


29 की जगह सिर्फ 19 बताई मौतें
राजसमंद में अभीतक जिला स्तर से विभाग के द्वारा जो आंकड़े पेश किए जा रहे थे, उसके अनुसार रविवार तक २९ मौतें हो चुकी हैं, जबकि राज्यस्तर से जो आंकड़े जारी किए गए है, उसमें रविवार तक महज १९ मौतें ही बताई गई हैं। साथ ही रविवार को राजसमंद के पीपली आचार्यान गांव में एक वृद्ध की कोरोना से मौत हुई है। जबकि राज्य स्तर की सूची में इस मौत का कोई हवाला नहीं दिया गया है।


जांच के आंकड़े बढ़ाए
राज्यस्तर पर मानो आंकड़ों से खेल खेला जा रहा है। यहां पिछले करीब एक माह से औसत ४०० से ५०० संदिग्धों की ही रोजाना सैम्पलिंग हो रही है। स्थानीय स्तर पर शनिवार तक ४४८६९ संदिग्धों की सैम्पलिंग हुई थी। रविवार को उसी औसत से अगर जोड़ें तों ४५३०० लोगों को सैम्पलिंग होती, लेकिन राज्य स्तर पर जारी आंकड़ों में इस संख्या में खासी बढोत्तरी करते हुए सैम्पलिंग ४६७७७ दिखाई गई है। यानि केवल रविवार को ही 1908 संदिग्धों की सैम्पलिंग करना बताया गया है। जबकि राजसमंद पिछले एक महीने में इतनी ज्यादा सैम्पलिंग हुई ही नहीं।

Aswani Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned