सड़कों पर लॉकडाउन, घरों के बाहर गुट

लोग एक दूसरे से दूरी रखने का नहीं दे रहे ध्यान
शहर में लॉकडाउन की स्थिति

राजसमंद. जैसे-जैसे पुलिस का रवैया स त हो रहा है, वैसे-वैसे सड़कों से भीड़ कम होती जा रही है। बुधवार को सड़कों पर अधिकतर लोग वही दिखे जिन्हें आवश्यक काम थे, बाकी लोग घरों पर ही रहे। लेकिन अभी भी लोग प्रधानमंत्री के सोशल डिस्टेंस को नहीं समझ रहे हैं, गली मोहल्लों, सूने स्थानों पर लोग गुट बनाकर चर्चा करते नजर आ रहे हैं। वे आपस में आवश्यक दूरी रखने को नजरांदाज करते दिख रहे हैं। इसके नजारे शहरी क्षेत्रों की तुलना में ग्रामीण इलाकों में ज्यादा नजर आ रहे हैं। शहर में पुलिस प्रशासन ने चारोतरफ से बैरीकेस्ट्स लगाकर मार्गों को बंद कर रखा है, और वहां वे पूछतांछ कर ही प्रवेश दे रहे हैं, जिससे काफी हद तक फिजुल घूमने वालों पर शिकंजा कसा है।

बंद रही दुकानें
बुधवार को शहर में दूध और दवाओं की दुकानों को छोड़कर सभी दुकानें बंद रही। सुबह तो दूध की दुकानों को भी प्रशासन द्वारा बंद करवा दिया गया था लेकिन बाद में उन्हें खुलवा दिया गया। इससे शहर की सड़कों पर ज्यादा लोग नजर नहीं आए।


नहीं बंद हो रही गपशप
इधर शहर से बाहरी क्षेत्रों में बंद दुकानों के चबूतरों, गलियों में महिलाओं सहित पुरुषों की अभी भी गपशप नहीं थम रही है। इसमें भी सबसे चिंता जनक बात यह है कि वे आपस में उचित दूरी के नियम को भी नहीं बरत रहे। उनमें अभी भी सोशल डिस्टेंस को लेकर जागरुकता नहीं दिख रही।


ग्रामीण क्षेत्रों में और भी खराब है हालत
शहरी क्षेत्रों की तुलना में सोशल डिस्टेंस को लेकर गांव में और भी स्थिति खराब है, कई गांव तो ऐसे हैं जिनमें लगता ही नहीं कि लॉकडाउन भी चल रहा। फर्क ये है कि अब वे चौपालों पर नहीं बैठककर घरों के बाहर ही चौपाल लगा रहे हैं।

Aswani Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned