अब एफएसएल रिपोर्ट तय करेगी कि मार्बल कारोबारी की हत्या हुई है या आत्महत्या

अब एफएसएल रिपोर्ट तय करेगी कि मार्बल कारोबारी की हत्या हुई है या आत्महत्या

Laxman Singh Rathore | Updated: 20 May 2019, 12:29:56 PM (IST) Rajsamand, Rajsamand, Rajasthan, India

मार्बल कारोबारी के मलद्वार में डिटोनेटर के विस्फोट से मौत का मामला

लक्ष्मणसिंह राठौड़ @ राजसमंद

दिवेर के आसन ढलान में मार्बल कारोबारी के मलद्वार में डिटोनेटर के विस्फोट से मौत के मामले में अब एफएसएल रिपोर्ट तय होगा कि मार्बल कारोबारी की हत्या हुई है या आत्महत्या की। फिर पुलिस उसी दिशा में अग्रिम जांच करेगी। पुलिस ने मृतक के परिजनों से सभी लेनदारों व देनदारों की सूची मांगी है। एक कारोबारी की भूमिका भी संदिग्ध है, जिससे भी पुलिस द्वारा पूछताछ की जा रही है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक झाड़ सादड़ी, देलवाड़ा निवासी माधुसिंह (51) पुत्र भंवरसिंह 3 मई दोपहर मलद्वार में डिटोनेटर के विस्फोट मौत हो गई। घटना के बाद पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे के फुटेज, मोबाइल की कॉल डिटेल, मांडावाड़ा टोल प्लाजा के टोल शुल्क पर्ची संबंधी तहकीकात की। शारीरिक तौर पर किसी से संघर्ष करने के तथ्य भी सामने नहीं आए, जबकि टोल प्लाजा की एक तरफा टोल पर्ची से यह शंका जताई जा रही है कि मृतक को माधुसिंह को पता था कि वापस चौबीस घंटे में नहीं आना है, जबकि इससे पहले जब भी हाइवे से गुजरे, तो हर बार रिटर्न टोल पर्ची ली। कॉल डिटेल से एक मार्बल कारोबारी की भूमिका संदिग्ध होने पर पुलिस द्वारा उससे भी पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने मृतक के परिजनों को भी पूछताछ के लिए बुलाया है। साथ ही समस्त लेनदार व देनदारों की सूची मांगी है और पुलिस द्वारा उन सभी से पूछताछ की जाएगी। अगले सप्ताह तक एफएसलए की रिपोर्ट भी आ जाएगी, जिससे मौत के कारणों के साथ ही हत्या या आत्महत्या का संशय भी दूर हो जाएगा। फिर उसी दिशा में दिवेर थाना पुलिस की अग्रिम जांच होगी। फिलहाल कारोबारी माधुसिंह की मौत पर संशय बरकरार है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned