नाथद्वारा अस्पताल में डीएमएफटी से लगेंगे 80 लाख के उपकरण

सीटी स्कैन मशीन भी होगी स्थापित, डायलेसिस सेवा भी शीघ्र होगी शुरू, विधानसभा अध्यक्ष ने ली चिकित्साधिकारियों की बैठक

By: jitendra paliwal

Published: 13 Jan 2021, 10:26 AM IST

नाथद्वारा. स्थानीय गोवर्धन राजकीय सामान्य चिकित्सालय में जरूरी चिकित्सकीय उपकरण के लिए डीएमएफटी फंड से 80 लाख रुपए जारी किए जाएंगे। वहीं, यहां पर शीघ्र ही सीटी स्कैन मशीन भी स्थापित की जाएगी। जबकि, डायलेसिस की सेवा निजी स्तर पर इसी माह प्रारंभ होने की संभावना है। विधानसभा अध्यक्ष डॉ सीपी जोशी ने जिले के चिकित्सकों की मंगलवार शाम को यहां पर बैठक ली एवं इस दौरान जिले में स्वास्थ्य सेवाओं के हालात भी जाने। चिकित्सालय के सभागाार में आयोजित बैठक में डॉ. जोशी ने जिले में कोरोना के हालात को जाना एवं वर्तमान में जो स्थिति है उसे लेकर सभी को सतर्क रहने के निर्देश दिए। अस्पताल के पीएमओ डॉ. कैलाश भारद्वाज ने बताया कि विधानसभा अध्यक्ष के द्वारा यहां पर आवश्यक चिकित्सा उपकरण के लिए 80 लाख रुपए कलक्टर अरविंद पोसवाल के द्वारा डीएमएफटी फंड से जारी कराने की सहमति दी। उधर, विधानसभा अध्यक्ष डॉ. जोशी ने जिले में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न अभियानों की प्रगति आदि की भी समीक्षा की। उन्होंने चिकित्सा अधिकारियों को अस्पताल के सम्बध में जरूरी निर्देश दिए। इस अवसर पर उन्होंने पूरे चिकित्सालय का निरीक्षण किया और व्यवस्थाओं का जायजा लिया। कलक्टर पोसवाल ने भी उपस्थित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी राजसमंद डॉ. कैलाश भारद्वाज, उप नियंत्रक डॉ. सतीश सिंघल, डॉ. बाबूलाल जाट, डॉ. रिद्वीकरण, डॉ. भूपेश परतानी, अनिल शाह, कांग्रेस जिलाध्यक्ष देवकीनन्दन गुर्जर व शेखर कुमार, उपखंड अधिकारी अभिषेक गोयल आदि मौजूद थे।

ये उपकरण लगेंगे
एनेस्थेसिया मशीन 10 लाख रुपए, अस्थि रोग ऑपरेशन टेबल 5 लाख , ऑर्थाेस्कोपिक मशीन 7 लाख, ,नेत्र रोग के लिए ऑटो रेफरेक्ट्रो केट्रो मीटर 4 लाख, नाक कान गला के लिए मशीन 8 लाख, चर्म रोग के लिए थैरेपी मशीन 4 लाख, लेबोरेट्री मेडीसिन ईको मशीन रेडियोलोजी विभाग सहित अन्य चिकित्सा के उपकरण खरीदे जाएंगे।

jitendra paliwal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned