ग्रामीणों को धमका रहे बजरी खननकर्ता

चौकड़ी के ग्रामीणों ने जिला कलक्टर को सौंपा ज्ञापन

रेलमगरा. उच्च न्यायालय की रोक के बावजूद बनास नदी से बजरी का धड़ल्ले से खनन किया जा रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि मना करने पर रसूखदार ग्रामीणों को धमकाते हैं। चौकड़ी के ग्रामीणों ने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की है। ज्ञापन में ग्रामीणों ने बताया कि लीज की आड़ में रसूखदार बनास नदी पेटे से अवैध रूप से बजरी का खनन करने पर तुले हुए हैं।

नदी पेटे से बजरी भरकर वाहनों को जबरन नदी किनारे स्थित खातेदारी जमीन में खड़ी फसलों के मध्य से निकालते हैं जिससे खेतों में भारी नुकसान हो रहा है। दूसरी ओर ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया कि बजरी खनन करने वाले लोग ग्रामीणों पर राजनीति रसूख का दबाव बनाकर कानूनी कार्रवाई की धमकियां देते हैं। ग्रामीणों द्वारा रोकने का प्रयास करने पर लडऩे को उतारू हो जाते हैं। ज्ञापन देने में सरपंच रतनसिंह दुलावत, उदयलाल, भगवतीलाल, वरदीचंद, शोभालाल, भैरूलाल, नारायणलाल, कालूराम, मियाराम, हेमराज, कालूराम कुमावत आदि मौजूद थे।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned