चरागाह भूमि पर अवैध खनन को लेकर हाईकोर्ट का स्थगनादेश

खनन विभाग को जारी किया नोटिस, ग्रामीणों ने लगाई थी जनहित याचिका

By: jitendra paliwal

Published: 03 Jul 2021, 08:59 AM IST

चारभुजा. तहसील की ग्राम पंचायत जनावद के राजस्व गांव डूंगर जी का गुड़ा में विगत 25 वर्षों से चरागाह भूमि से सफेद पत्थर व फेल्सपार निकाला जाता रहा है। ग्राम वासियों द्वारा इस अवैध खनन को रोकने के लिए तहसीलदार व पटवारी को कई बार ज्ञापन दिया। लेकिन, ग्रामीणों की समस्या का समाधान नहीं हो पाया। इस पर ग्रामीणों ने न्यायालय की शरण ली, जिस पर न्यायालय ने खनन पर स्टे जारी करते हुए खनन विभाग को नोटिस जारी किया है।
गांव केजयसिंह ने बताया कि अवैध खनन को रोकने के लिए ग्रामीणों ने अवैध खनन करने वाले देवगढ़ निवासी अशोक कुमार जैन को रोकने का प्रयास किया, मगर माइनिंग विभाग की मिलीभगत से यह संभव नहीं हो पाया। इस पर ग्रामीणों ने राजस्थान उच्च न्यायालय जोधपुर में जनहित याचिका दायर की। इस पर राजस्थान उच्च न्यायालय जोधपुर में गत 29 जून 2021 को मामले की सुनवाई की गई। मुख्य न्यायाधीश इंद्रजीत महंती व न्यायाधीश विनीत कुमार माथुर की खंड पीठ की ओर से राज्य के प्राधिकारियों को नोटिस जारी किया गया। साथ ही तत्काल प्रभाव से उपरोक्त खसरा में खनन गतिविधियों के अवैध संचालन पर रोक लगा दी गई। इसके साथ ही खनन विभाग को नोटिस जारी कर अवैध खनन पर तुरंत रोक लगाकर कार्रवाई करने को कहा है। जनहित याचिका दायर करने वालों में किशनसिंह, जयसिंह, मांगीलाल मेघवाल, हरीसिंह, रतनसिंह, गणपति सिंह शामिल थे।

jitendra paliwal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned