Video : सबकुछ ठीक रहा तो इस बार लबालब होगी झील

- फीडर व नहरों की सफाई का पचास फीसदी काम पूरा
- बारिश के दौरान भरपूर पानी आने की उम्मीद
- नरेगा के तहत हो रहा है 21 स्थानों पर सफाई कार्य
- मानसून के बाद होंगे पक्के कार्य

By: Rakesh Gandhi

Updated: 29 Jun 2020, 07:32 PM IST

राजसमंद. मानसून सिर पर है, ऐसे में राजसमंद जिले की लाइफलाइन राजसमंद झील को भी इस समय भरपूर पानी की दरकार है। इसे ध्यान में रखते हुए पिछले दिनों राजसमंद झील से जुड़ी खारी फीडर समेत जिले भर में 21 स्थानों पर शुरू किया गया नहरों व फीडर की सफाई का कार्य लगभग पचास फीसदी पूरा हो चुका है। सफाई कार्य के बाद पानी के बहने में कोई रुकावट भी नहीं रहेगी। इससे मानसून के दौरान राजसमंद झील समेत विभिन्न जलाशयों में भरपूर पानी की आवक की संभावना बनी है। उल्लेखनीय है सफाई व मरम्मत के इन कार्यों पर पांच करोड़ ग्यारह लाख रुपए खर्च होंगे।
सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता ओंकार बेरवाल ने बताया कि इन सभी 21 स्थानों पर आगामी दस दिनों में कार्य पूरा होने की उम्मीद है। इन कार्यों पर नरेगा के तहत 1200 श्रमिक लगे हैं और कुछ स्थानों पर सफाई का काम पूरा हो चुका है तो कुछ स्थानों पर जारी है। इन कार्यों के पूर्ण होने के बाद जिले की विभिन्न जलाशयों में आशानुरूप पानी आने की संभावना है। इसके तहत स्वीकृत करवाए जाने वाले पक्के कार्य मानसून के बाद ही संभव होंगे। इन कार्यों के लिए निविदाएं भी शीघ्र ही जारी की जाएगी।
उल्लेखनीय है कि नंदसमंद से टाटोल, बागोल, धायल, सुंदरचा, पीपरडा, मुंडोल, बोरच, पसूंद आदि क्षेत्रों में कार्य तेजी से चल रहा है व काफी स्थानों पर खारी फीडर साफ नजर आने लगी है। श्रमिक इस फीडर में उगी झाडिय़ों को हटाने के साथ ही उनमें पड़ा कचरा भी बाहर निकाल रहे हैं। नंदसमंद से राजसमंद तक करीब 22-23 किलोमीटर लम्बी इस फीडर की सफाई का कार्य भी आगामी दस दिनों में पूरा होने की संभावना है।

Rakesh Gandhi Editorial Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned