JAG MAHOTSAV : क्षेत्रपाल भैरूजी मंदिर जग महोत्सव 28 को : शिशोदा गांव में लाइट डेकोरेशन से की सजावट

अस्थायी पुलिस चौकी लगाई, प्रशासन अलर्ट

By: laxman singh

Published: 25 Apr 2018, 09:18 AM IST

राजसमंद. शिशोदा के श्री क्षेत्रपाल भैरूजी मंदिर के जग महोत्सव का जीमणवार 28 अप्रेल को होगा। मंदिर के साथ ही समूचे गांव में लाइट डेकोरेशन से आकर्षक सजावट की गई और कानून एवं शांति व्यवस्था को लेकर अस्थायी पुलिस चौकी लगा दी और प्रशासनिक अमला भी मुस्तैद कर दिया है। निज मंदिर के सभा मंडप का जीर्णोद्धार प्रतिष्ठा के तहत जग महोत्सव मेले का आगाज सोमवार से हो गया। मंदिर मार्ग पर वाहनों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया है और दोनों मार्ग पर वाहनों की पार्किंग के लिए विशेष पार्किंग स्थल बना दिए गए हैं। मेले में श्रद्धालुओं के ठहरने, पेयजल प्रबंध के साथ ही सुरक्षा व्यवस्था को लेकर राजसमंद पुलिस लाइन से अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर दिया है। पूरे मंदिर परिसर को रंग बिरंगी फर्रियों से सजाया गया है और फर्श पर मेटिंग बिछाने के साथ ही चौतरफा विभिन्न देवी देवताओं की मनमोहक झांकियों को सजाया गया है, जो श्रद्धालुओं के लिए खास आकर्षण का केन्द्र है। साथ ही मंदिर से दोनों मार्ग पर मुख्य प्रवेश द्वारों तक आकर्षक डेकोरेशन के साथ लाइटिंग की गई। पूरे रास्ते में पेयजल के लिए जगह जगह नल खोले गए हैं।

जागरण पर भजन संध्या 27 को
जग महोत्सव के तहत भैरूजी मंदिर में रात्रि जागरण पर 27 अप्रेल को भजन संध्या होगी, जिसमें प्रदेश के ख्यातनाम कलाकारों द्वारा रातभर एक से बढक़र एक भजनों की मनमोहक प्रस्तुतियां दी जाएगी। दूसरे दिन 28 अप्रेल को अल सुबह बोलियां लगने के बाद वैदिक मंत्रोच्चार के साथ निज मंदिर के शिखर पर कलश चढ़ाया जाएगा।

सजी स्टालें, लगी डोलर-चकरियां
शिशोदा में जग महोत्सव को लेकर मनिहारी, चाट पकोड़ी, खिलौने, कपड़े, पेय पदार्थों की सैकड़ों स्टालें सज गई, जहां खरीददारी का मेला शुरू हो गया है। अल सुबह से देर रात तक हर स्टाल पर लोगों का जमघट लगा रहा। साथ ही मनोरंजन मार्केट में भी डोलर चकरियां सज गई, जहां दिन ढलने के साथ ही डोलर चकरी में झूलने के लिए लोगों को कतार में लगना पड़ा।

Show More
laxman singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned