Video : राजसमंद में भी टिड्डी दल ने मचाई धमाल

- थाली, पीपे के शोर से उड़ी
- चित्तौडग़ढ़ की ओर किया प्रस्थान

By: Rakesh Gandhi

Published: 21 May 2020, 09:24 AM IST

राजसमंद. पश्चिमी जिलों से होता हुआ टिड्डी दल बुधवार को राजसमंद जिले के विभिन्न क्षेत्रों में सो होकर गुजरा। हालांकि इस बीच इस दल ने कुछ समय के लिए विभिन्न कस्बों के खेतों में पड़ाव भी डाला, लेकिन किसानों की जागरुकता के चलते इस दल को उडऩा पड़ा और चित्तौडग़ढ़ की ओर उड़ गया। आमेट, रेलमगरा, कुंवारियां, पीपली आचार्यान, देवगढ़ आदि क्षेत्रों में कहीं ऊपर से तो कहीं खेतों में ये दल उतरा। किसानों ने विभागीय अधिकारियों से मिले संदेश के बाद उन्हें ढोल, थाली, पीपे आदि बजाकर वहां से उड़ाया या आगे बढऩे को मजबूर किया। इसी बीच भीम-देवगढ़ विधायक सुदर्शनसिंह रावत ने जिला प्रशासन से टिड्डी दल से हुए नुकसान का जायजा लेने की मांग की है।

नुकसान का जायजा लेने की मांग
देवगढ़. विधायक सुदर्शनसिंह रावत ने बुधवार को जिला कलक्टर से भीम विधानसभा क्षेत्र में टिड्डी दल द्वारा किए गए नुकसान का जायजा लेने व पीडि़त कृषकों के परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान करने की मांग की। टिड्डी दल द्वारा सोमवार को भीम-देवगढ़ के कई गांवों में कपास व अन्य फसलों को नुकसान पहुंचाया। विधायक रावत ने भीम एवं देवगढ़ तहसीलदार व कृषि अधिकारियों को पीडि़त कृषकों के नुकसान की गिरदावरी करने व कृषि अधिकारियों को ग्रामीणों को टिड्डी दल से बचाव के उपायों की जानकारी देकर जागरूक करने के लिए निर्देशित किया।

नगर पर ऊपर से मंडराता हुआ निकल गया टिड्डियों का झुंड
आमेट. इन दिनों जहां आम आदमी कोविड-19 के संक्रमण से जूझ रहा है, वहीं दूसरी ओर मेवाड़ के कई जिलों में टिड्डी दल ने किसानों की परेशानी बढ़ा दी है। पश्चिमी राजस्थान में टिड्डी दलों द्वारा कहर बरपाने के बाद अब पड़ौसी जिले राजसमंद में भी इसकी दस्तक हो चुकी है। बीते दो दिनों से यह दल जिले में सक्रिय है।

ग्रामीणों ने थाली, पीपे बजाकर भगाया टिड्डियों को
कुंवारिया. तहसील क्षेत्र में बुधवार दोपहर को टिड्डियों के दल ने आमेट की दिशा से प्रवेश किया। लाखो की संख्या में टिड्डियों के दल को किसानों व ग्रामीणों ने थाली, पीपे व बर्तन बजा कर उन्हें दूर भगाने का प्रयास किया। टिड्डियों का दल कुंवारिया तहसील के कालीमगरी, खातीखेड़ा, जोधपुरा, कुंवारिया लवारिया, फियावड़ी एनिकट के उपर से होते हुए गोगाथला की ओर बढ़ गया।

रेलमगरा क्षेत्र में दूसरे दिन भी पहुंचा टिड्डी दल, खेतों में हुआ शोरगुल
रेलमगरा. सरदारगढ़ की ओर से बुधवार को रवाना हुआ टिड्डी दल ने गोगाथला से रेलमगरा क्षेत्र में प्रवेश किया। सहायक कृषि अधिकारी औंकारलाल चौधरी ने बताया कि गोगाथला से टिड्डी दल सकरावास, सादड़ी, भराई, मेहन्दूरिया, गवारड़ी, धनेरियागढ़, छापरी होते हुए चित्तौडग़ढ़ जिले में प्रवेश कर गया। विभाग की ओर से मिली सूचना के आधार पर टिड्डियों के पहुंचने से पूर्व ही खेतों में पहुंच गए और शोरगुल कर दल को नीचे नहीं उतरने दिया।

Rakesh Gandhi Editorial Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned