VIDEO : व्यापारी को अगवा कर फिरौती वसूलने पर तीन शातिर बदमाश गिरफ्तार

Laxman Singh Rathore | Publish: Jan, 10 2019 11:44:52 AM (IST) Rajsamand, Rajsamand, Rajasthan, India

गिरोह का मास्टरमाइंड नाथद्वारा का, दूसरा आरोपी निम्बाहेड़ा में मुस्लिम महासभा का अध्यक्ष

नाथद्वारा. शहर के निवासी व मुंबई प्रवासी व्यापारी का अपहरण कर फिरौती वसूलने के मामले में पुलिस ने गिरोह का पर्दाफाश करते हुए तीन शातिर बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। गिरोह का मास्टरमाइंड नाथद्वारा का ही निकला, जबकि दूसरा आरोपी चित्तौडग़ढ़ जिले के निम्बाहेड़ा में मुस्लिम महासभा का अध्यक्ष है।

पुलिस अधीक्षक भुवन भूषण यादव ने बताया कि नाथद्वारा हाल मुंबई के काला चौकी लालबाग निवासी गणपतलाल पुत्र मोतीलाल धाकड़ 29 नवंबर 2018 को नाथद्वारा में ही थे। तभी दोपहर ढाई बजे मोबाइल पर अज्ञात व्यक्ति का कॉल आया कि करधर बावजी में दर्शन व सेवा पूजा संबंधी बातचीत की। दूसरे दिन 30 नवम्बर को करधरबावजी के दर्शन करने की बात करते हुए धाकड़ का अपहरण कर लिया। बाद में शातिर बदमाशों ने व्यापारी धाकड़ से १३ किलो चांदी के उपकरण, एक लाख रुपए नकद लूटकर जंगल में छोड़कर फरार हो गए। उसके बाद पीडि़त व्यापारी की रिपोर्ट पर नाथद्वारा पुलिस ने जांच शुरू कर दी। पुलिस ने गिरोह के सरगना को चौपाटी गली नाथद्वारा मुकेश कुमार पुत्र गोपाललाल लखोटिया, मोहनगढ़, नाथद्वारा निवासी मनोज कुमार पुत्र गोपाललाल सोनी एवं निम्बाहेड़ा (चितौडग़ढ़) निवासी मुफीद खान पुत्र मम्मु खान को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने व्यापारी के अपहरण व लूट की वारदात को कबूल किया। अब आरोपियों को गुरुवार को न्यायालय में पेश करके रिमांड पर लिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि अपहरण की घटना के बाद व्यापारी 30 नवम्बर को ही मुंबई चला गया और 6 दिसम्बर को नाथद्वारा थाने में रिपोर्ट दी थी। गिरोह में शामिल निम्बाहेड़ा निवासी फिरोज मेव व सलीम पायलट अब भी फरार है, जिनकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है।

यूं किया अपहरण, फिर लूटा माल
30 नवंबर सुबह कॉल पर अनजान व्यक्ति के साथ करधर बावजी दर्शन के लिए जाने की सहमति जताई। आरोपी तहसील रोड पर नीले रंग की गुजरात पासिंग कार लेकर हपुंच गए, जिसमें चार लोग पहले से सवार थे। धाकड़ ने घर के सदस्यों बताने के बाद कार में बैठ गया। कार जैसे ही बनास पुलिया की तरफ निकली, तभी उसके सिर पर देसी कट्टा, चाकू रखकर धमकाया कि उन्हें 25 लाख की सुपारी मिली है। रस्सी से हाथ-पैर व आंखों पर पट्टी बांध दी। तभी नाथद्वारा के व्यापारी पप्पू पुत्र जटाशंकर का कॉल आया कि माल तैयार है डिलेवरी कहां देनी है। तब कुछ देर बाद कॉल करने की बात कही। फिर दोबारा कॉल आने पर मुकेश ने बात कर गणपतलाल धाकड़ का पुत्र बताकर बात की। साथ ही १३ किलो चांदी के जेवर व एक लाख रुपए की नकदी हड़प ली।

मावली के पास जंगल में छोड़ा
नाथद्वारा में चांदी व एक लाख रुपए लेने के बाद व्यापारी धाकड़ को बंधक बनाकर मावली से फतहनगर मार्ग पर ले गए, जहां हाइवे से आधा किमी. दूर जंगल में छोड़ दिया। साथ ही 200 रुपए नकद देते हुए धमकाया कि अगर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई, तो उसे व उसके परिवार को जान से मार देंगे।

चाय वाले की सिम का उपयोग
शातिर गिरोह ने 29 नवंबर को मंडियाणा रेलवे स्टेशन के बाहर चाय पी। फिर चाय वाले से कहा मेरे पास फोन नहीं है, मोबाइल दो एक कॉल करना है। इस पर चाय वाले ने फोन दे दिया। तभी मोबाइल को खोलकर उससे एक सिम निकाल ली और उनके पास जो बंद सिम थी, वह उस मोबाइल में डाल दी। बाद में वारदात को अंजाम देने तक उसी मोबाइल सिम का उपयोग करते रहे।

कर्ज में डूबे हैं मनोज-मुकेश
अपहरण व फिरौती मांगने के गिरोह के मुख्य आरोपी मुकेश व मनोज मित्र है, जो कर्जे में डूबे हुए हैं। मुकेश निम्बाहेड़ा के पास स्थित बिनोता में माइनिंग क्षेत्र में नौकरी करता है। उसकी दोस्ती निम्बाहेड़ा निवासी मुफीद खान से हो गई। फिर तीनों ने अपहरण, फिरौती की साजिश रची।

एक वर्ष पुरानी वारदात में भी लिप्त है मुकेश- मुफीद
१९ जनवरी 2018 को बोहरा बाजार नाथद्वारा में ज्वैलर्स शॉप संचालक दिलीप पुत्र गोपाललाल सोनी के साथ भी ऐसी ही वारदात हुई। आयकर विभाग की कार्रवाई के बाद मुकेश व मुफीद ने दो अन्य साथियों ने आयकर अधिकारी बनकर कॉलकर दिलीप को बुला लिया और कार में बिठा नाथूवास चौराहे की ओर फोरलेन पर जाने लगे और 10 लाख रुपए की फिरौती मांगी। तभी दिलीप कार से कूद गया।

यह थी टीम
एएसपी राजेश भारद्वाज व डीएसपी ओम कुमार के नेतृत्व में टीम गठित की, जिसमें सीआई जितेन्द्र आंचलिया, उप निरीक्षक लालसिंह, एएसआई रविन्द्रसिंह, हैड कांस्टेबल पवनसिंह, प्रकाशसिंह, इन्द्र चंद, विकेश कुमार, विजयसिंह शामिल है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned