बरार में आखिर हारी शराब, जीत ही गई अवाम

बरार में आखिर हारी शराब, जीत ही गई अवाम

Laxman Singh Rathore | Publish: Jun, 24 2019 08:43:41 PM (IST) Rajsamand, Rajsamand, Rajasthan, India

Lost liquor in Barar दूसरे प्रयास में सफल हुआ ग्रामीणों का अभियान
फैक्ट फाइल
बरार में मतदाता 5603
सत्यापन कराने वाले मतदाताओं की संख्या 1504
शराबबंदी के लिए जरूरी सत्यापन प्रतिशत 20 प्रतिशत
हस्ताक्षर के भौतिक सत्यापन का प्रतिशत 26.70 फीसदी

प्रमोद भटनागर
भीम. क्षेत्र की बरार ग्राम पंचायत में कानूनी प्रक्रिया अपनाकर शराब की दुकानें बंद कराने को लेकर सोमवार को कराए गए भौतिक सत्यापन में आखिर ग्रामीणों की मेहनत रंग लाई। पिछली बार अपेक्षित प्रदर्शन नहीं होने से यहां शराबबंदी नहीं हो पाई थी, लेकिन इस बार आवश्यक 20 की बजाए 26.70 प्रतिशत हस्ताक्षरों का सत्यापन होने से यहां मतदान का रास्ता खुल गया है।
उपखण्ड अधिकारी सुमन सोनल, पीठासीन अधिकारी तहसीलदार उगमसिंह, विकास अधिकारी डॉ. रमेशचन्द्र मीणा, सीबीईओ भंवर मोहम्मद, एसीबीईओ मन्नालाल भाट, पीईईओ नरेन्द्रसिंह चौहान, ग्राम विकास अधिकारी देवाराम की मौजूदगी में हस्ताक्षरों का भौतिक सत्यापन किया गया। इसको लेकर सुबह से ही शराबबंदी को लेकर महिलाओं व पंचायतवासियों में खासा उत्साह दिखाई दे रहा था। राजीव गांधी सेवा केन्द्र पर महिलाओं व ग्रामीणों की रेलमपेल शुरू हो गई। सरपंच पंकजासिंह के नेतृत्व में वार्डपंचों व ग्रामवासियों की टोलियों ने घर-घर जाकर वृद्ध, विकलांग व असहाय लोगों को वाहनों की सहायता से सत्यापन स्थल तक पहुंचाना शुरू किया। इस दौरान विधायक सुदर्शन सिंह रावत ने राजीव गांधी सेवा केन्द्र पहुंचकर हस्ताक्षर सत्यापन प्रक्रिया का निरीक्षण कर प्रशासनिक व्यवस्थाओं का जायजा लिया। सरपंच पंकजासिंह ने सत्यापन स्थल पर मतदाता सूची में नाम व हस्ताक्षर प्रक्रिया समझाने के लिए पंद्रह वार्डों के काउंटर, छाया, पानी, भोजन व्यवस्था आदि के पुख्ता इंतजाम किए। इसके साथ अन्य जनप्रतिनिधियों व ग्रामीणों ने भी एकजुट होकर शराब ठेके हटवाने के लिए तत्परता से कार्य किया। वहीं, सैकड़ों महिलाओं ने भी दिनभर इसके लिए प्रयास किए। जबकि, प्रत्येक घंटे के अपडेट सुनने को बेताब लोगों की दिनभर राजीव गांधी सेवा केन्द्र पर भारी भीड़ व आवाजाही रही। इस दौरान मजदूर किसान शक्तिसंगठन के नारायण सिंह, वीरमसिंह, मोहनसिंह, गांधी सेवा सदन के महेन्द्र कर्णावट, उपभोक्ता मानवाधिकार संगठन के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुखदेव भट्ट, विष्णु मौर्य, रावत महासभा के प्रदेश अध्यक्ष भगवान सिंह आदि मौजूद थे।
कांग्रेस कमेटी ने भी लगाए काउंटर
विधायक रावत के निर्देश पर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष प्रभुदयाल नागर, ब्लॉक प्रवक्ता धन्नालाल सेन, विधानसभा यूथ प्रभारी भूपेन्द्रसिंह, पंचायत कांग्रेस कमेटी के मीठाराम कटारिया, डूंगरसिंह, वीरमसिंह, मोहनसिंह, पूरणलाल, हरीश प्रजापत, बलवीर सिंह, बहादुर सिंह, मांगीलाल सालवी, हरीश टांक ने ने सत्यापन स्थल पर स्टॉल लगाकर ग्रामीणों को प्रक्रिया से अवगत कराया।
कांग्रेस सरकार में हुआ संभव : रावत
विधायक रावत ने कहा कि बरारवासियों की मांग पर जिला कलक्टर द्वारा 24 जून को सत्यापन तिथि घोषित की गई। जबकि, पूर्व की सरकार द्वारा हजारों महिलाओं व जनता की आवाज को दबा दिया गया था। उन्होंने कहा कि कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को उनके दौरे के समय कुशलपुरा में जनसुनवाई के दौरान बरार के अभियान के बारे बताया था, जिस पर उन्होंने कार्यवाही के निर्देश दिए थे। उसी के तहत आज सौहार्दपूर्ण वातावरण में सत्यापन प्रक्रिया की गई।

गाजे-बाजे के साथ मनाया जीत का जश्न
उपखण्ड अधिकारी के द्वारा शराबबंदी को लेकर हुए हस्ताक्षरों के भौतिक सत्यापन में पंचायत के कुल 26.70 प्रतिशत लोगों के हस्ताक्षर सत्यापन की घोषणा के बाद बरार में जश्न का माहौल हो गया। महिलाओं व ग्रामीणों ने विधायक रावत व सरपंच को माला पहनाकर बधाई एवं शुभकामनाएं दी। इस दौरान ग्रामीणों ने राजीव गांधी सेवा केन्द्र से गाजे-बाजे के साथ जुलूस निकालकर एवं आतिशबाजी करके जश्न मनाया एवं मिठाई भी बांटी गई। इस दौरान पूर्व सरपंच ओमप्रकाश टांक, ठाकुरंिंसंह, गुरुप्रसाद ंिसंह, बालूसिंह रावत, गोपालसिंह, हरिसिंह रावत, लक्ष्मणसिंह, संतोषसिंह, पूनमसिंह, गौतम प्रजापत, जितेन्द्रंिसंह, रोशनसिंह, मांगीलाल मौजूद थे ।

Lost liquor in Barar, finally won public

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned