सूनी सड़कों की अंधेरी रातों में नारी शक्ति ने निकाली स्कूटर-बाइक रैली

वी विश फोर संगठन का स्थापना दिवस

By: Rakesh Gandhi

Published: 07 Mar 2020, 08:40 PM IST

राजसमंद. वी विश फॉर सोसाइटी के स्थापना दिवस पर युवतियों ने सामाजिक जागरूकता के लिए कांकरोली पुराने बस स्टैंड पर खुले मंच में टॉक शो एवं स्कूटर-बाइक रैली का आयोजन किया गया। संस्था के अध्यक्ष डॉ राकेश तैलंग ने बताया कि स्थापना दिवस पर प्रात: नौगामा भील बस्ती के बच्चों के साथ केक काटकर तीसरे फाउंडेशन-डे का आगाज हुआ, जहां बच्चों को स्वास्थ्य एवं स्वच्छता के लिए प्रेरित किया।
संस्था सचिव डा. विनिता पालीवाल ने बताया कि युवतियों की 'नाईट राइडिंग' के औचित्य आमजन की सोच बदलने का प्रयास है। इस दौरान आयोजित टॉक शो के दौरान विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि, कवि, समाजसेवी सहित 250 से अधिक महिला एवं पुरुष उपस्थित थे। स्कूटर एवं बाइक रैली के जरिए महिलाओं में आत्मविश्वास की ज्योति जलाकर स्वावलंबी बनाना और रात के अंधेरे के डर को मन-मस्तिष्क से मिटाना है। इस अवसर पर जतन संस्थान के निर्देशक डा. कैलाश बृजवासी ने समाज की कुंठित मानसिकता बदलने के लिए मात्र चर्चा-परिचर्चा के साथ-साथ प्रायोगिक अनुभवों को अतिआवश्यक बताया।
राष्ट्रीय महिला मण्डल की सदस्य डा. नीना कावडिय़ा ने नारी को शक्ति का प्रतिरूप बताया। पूर्व ओडा सरपंच वर्धिनी पुरोहित ने वर्तमान समय में नारी पर होने वाले अत्याचारों तथा लैंगिक असमानताओं पर चिंता जताते हुए रोक लगाने का आह्वान किया। नगर परिषद् सभापति सुरेश पालीवाल ने महिलाओं को परिवार की धुरी और देवी की उपमा देते हुए जरूरत के समय काली का अवतार धर संहार करने के लिए जाग्रत किया। काव्य गोष्ठी मंच से वीणा वैष्णव ने भारत में नारी की बदलती स्थितियों पर व्यंग कसा।
खुले मंच पर मोनिका कुमावत, गिरिजा चुण्डावत एवं ज्योति त्रिवेदी ने इव टीसिंग तथा साइबर उत्पीडऩ के मनोवैज्ञानिक प्रभाव को रेखांकित किया। भूमिका चौधरी एवं इशिका टांक ने महिला जिम्मेदारी पर भावना व्यक्त की। अन्नु राठौड़ ने कविता के माध्यम से अपने स्वाभिमान की आभा से धधकती हुई अंगार द्वारा महिला उत्पीडऩ की जंग के खिलाफ तैयार होने और हौंसले बुलंद करने को कहा।
इससे पूर्व रैली में 50 स्कूटर एवं बाइक पर 100 प्रतिभागियों ने भाग लिया। कार्यक्रम के सुरक्षित समापन के समय प्रतिभागियों के चेहरों पर चिंता, अचरज, आत्मविश्वास और बेफिक्र मुस्कान के रंगों को उकेरते हुए नव ऊर्जा का संचार हुआ। कार्यक्रम का संचालन उमा जोशी ने किया। अंत में संस्था के सदस्यों द्वारा विभिन्न खेल एवं नृत्य प्रतियोगिताएं आयोजित की गई।

Rakesh Gandhi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned