एक करोड़ रुपए से जिला अस्पताल में बनेगा ऑक्सीजन प्लांट

अस्पताल में ऑक्सीजन की समस्या होगी खत्म

By: Aswani

Published: 23 Apr 2020, 09:08 AM IST

अश्वनी प्रतापसिंह

राजसमंद. शीघ्र ही राजकीय आरके जिला चिकित्सालय को सिलेंडर वाले ऑक्सीजन से मुक्ति मिल जाएगी। अस्पताल में ही ऑक्सीजन प्लांट बनेगा, जिसके जरिए ऑक्सीजन बनेगी तथा पाइप लाइन से मरीजों तक पहुंचाई जाएगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व चिकित्सा मंत्री रघुशर्मा की ओर से जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट के लिए एक करोड़ रुपए की स्वीकृति जारी की गई है। इसमें 48 लाख रुपए से मेडिकल गैस पाइप लाइन का काम होगा, जबकि 52 लाख रुपए से ऑक्सीजन प्लांट का निर्माण किया जाएगा। प्लांट अस्पताप परिसर में ही बनेगा।


यह मिलेगा फायदा
200 से अधिक बेड के राजकीय आरके जिला चिकित्सालय में अभी ऑक्सीजन की सप्लाई सिलेंडरों के माध्यम से की जाती है। जिससे कईबार ऑक्सीजन के लिए मरीजों और अस्पताल प्रशासन को समस्याओं का भी सामना करना पड़ जाता है। अब जिला अस्पताल में प्लांट बन जाने से यहीं ऑक्सीजन उपलब्ध होगी, जिसका सीधा फायदा अस्पताल प्रशासन के साथ ही मरीजों को मिलेगा। जिला अस्पताल के विभिन्न वार्डों के 100 पलंगों तक लाइन बिछाई जाएगी। इसके लिए 48 लाख रुपए की स्वीकृति हुई है।


56 से 70 क्यूबिक मीटर ऑक्सीजन की रोजाना जरूरत
जिला अस्पताल में अभी मात्र ४० पलंगों तक पाइप लाइन पड़ी है। इनमें ऑक्सीजन की सप्लाई सिलेंडरों के माध्यम से की जाती है। बताया जाता है कि रोजाना ८ से १० आक्सीजन के बड़े सिलेंडर लगते हैं, एक बड़े सिलेंडर में करीब ७ क्यूबिक मीटर गैस आती है, यानि रोजाना करीब ५६ से ७० क्यूबिक मीटर गैस की जरूरत होती है। अगर यहां ऑक्सीजन गैस प्लांट बना तो ये गैस सीधे प्लांट से सप्लाई हो सकेगी।


प्लांट के लिए बनेंगे दो कमरे
अस्पताल में गत दिनों आई टीम ने यहां प्लांट के लिए भूमि देखी थी, बताया जाता है कि प्लांट के निर्माण के लिए उन्होंने अस्पताल परिसर में तीन जगह देखी हैं। प्लांट के लिए दो कमरों का निर्माण किया जाना है, जिसमें एक कमरा २० बाय २० का तथा दूसरा कमरा १२ बाय १२ का होगा। इस प्लांट से एक मुख्य लाइन निकलेगी बाद में उसी लाइन से अन्य वार्डों केलिए तथा वार्डो से पलंगों के लिए ऑक्सीजन गैस की सप्लाई की जाएगी। बताया जाता है कि ऐसे प्लांट ऐसी जगह बनाए जाते हैं ताकि सभी वार्डों की दूरी लगभग ही हो। इसलिए इसे सेंटर प्लांट भी कहते हैं।


टीम तय करेगी जगह...
सरकार ने अस्पताल में मेडिकल गैस पाइप लाइन के लिए ४८ लाख तथा ऑक्सीजन गैस प्लांट के लिए ५२ लाख रुपए की वित्तीय स्वीकृति दी है। गत दिनों यहां टीम आई थी, जिसने प्लांट के लिए तीन, चार जगह देखी थी, अब कहां बनेगा ये तो टीम ही तय करेगी। प्लांट का काम शीघ्र ही शुरू होने की उम्मीद है।
-डॉ. ललित पुरोहित, पीएमओ, राजकीय आरके जिला चिकित्सालय, राजसमंद
राजसमंद.

Aswani Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned