जनप्रतिनिधियों के आरोप - जलस्त्रोत खराब, बिजली की आंख मिचौनी पर अभियंता नहीं गंभीर

laxman singh

Publish: May, 18 2018 11:18:30 AM (IST)

Rajsamand, Rajasthan, India
जनप्रतिनिधियों के आरोप - जलस्त्रोत खराब, बिजली की आंख मिचौनी पर अभियंता नहीं गंभीर

खमनोर पंचायत समिति की साधारण सभा, प्रताप जयंती मेला समारोह पर हुई चर्चा

खमनोर. खमनोर पंचायत समिति की साधारण सभा गुरुवार को पंचायत समिति परिसर में प्रधान शोभा पुरोहित की उपस्थिति में हुई, जिसमें प्रताप जयंती मेला समारोह, बिजली, पानी सहित विभिन्न मुद्दों पर विस्तार से चर्चा हुई। बैठक के प्रारम्भ में विकास अधिकारी डॉ केदार प्रसाद वैष्णव ने गत बैठक का प्रतिवेदन पेशकर महाराणा प्रताप जयंती मेला समारोह पर चर्चा शुरू की। चर्चा के दौरान सभी से मेला समारोह को भव्य रूप देने एवं मेला समारोह में अपनी सक्रिय भूमिका निर्वहन का आह्वान किया गया। बैठक में सभी ग्राम पंचायत के सरपंच एवं ग्राम सेवक को जिम्मेदारी सौंपी गई कि मेला समारोह में प्रतिदिन वे अपनी ग्राम पंचायत क्षेत्र से 50-50 ग्रामीणों को मेला समारोह से जोड़ कर मेले को भव्य बनाने में सहयोग करें। वहीं इसबार मेला समारोह में उच्च अंक प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं के प्रोत्साहन के लिए उन्हें सम्मानित करने का भी प्रस्ताव लिया गया। इसके लिए 10 जून तक संबंधित छात्र-छात्राओं की सूची पंचायत समिति मुख्यालय पर पहुंचाने के निर्देश दिए गए। बैठक में बिजली के मुद्दे पर चर्चा के दौरान बताया कि कई स्थानों पर बीपीएल परिवारों के बिजली कनेक्शन अब तक नहीं हो पाये हैं, जिससे लोगों को सरकारी योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। गर्मी के इस दौर में बिजली कटौती सहित थ्री फेज विद्युत आपूर्ति में भी कटौती पर जनप्रतिनिधियों ने खासी नाराजगी जताई। पेयजल पर चर्चा के दौरान जनप्रतिनिधि एक स्वर में बोले के भीषण गर्मी के दौर में पर्याप्त जलापूर्ति के अभाव में आमजन को पानी के लिए इधर-उधर भटकना पड़ रहा है। पानी आमजन की मूलभूत सुविधाओं में प्रमुख सुविधा है। इसकी व्यवस्था में संबंधित विभाग कोताही नहीं बरते, गर्मी में पानी की किल्लत के बाद व्यवस्थाओं को दुरस्त करने के बजाय गर्मी के आगमन से पूर्व ही व्यवस्थाओं के पुख्ता प्रबंध करें ताकि आमजन को इधर-उधर नहीं भटकना पड़े। नेगडिया, कुठवा, फतेहपुर, खमनोर, कोशीवाड़ा, पाखंड, घोड़च, मंडियाना, सेमल सहित विभिन्न स्थानों के जनप्रतिनिधियों ने बताया कि क्षेत्र में अधिकतर हैण्डपम्प खराब पड़े हैं। जिनके दुरस्त नहीं होने से लोगों को पानी नहीं मिल पा रहा है। कईबार शिकायत के बावजूद भी समाधान नहीं होने से ग्रामीणों में आक्रोश है। खमनोर में भी जलदाय विभाग का मुख्यालय स्थित है किंतु संबंधित अधिकारी के मुख्यालय पर नहीं बैठने एवं मुख्यालय पर नहीं रुकने से आमजन शिकायत भी नहीं कर पा रहे। इस दौरान पंचायत समिति सदस्य अमर सिंह, हरेन्द्र सिंह, अशोक वैष्णव, प्रेमलता, जिपस कृष्णा सोनी, नेड़च सरपंच सोहन सिंह, सेमल सरपंच मांगू सिंह, बागोल सरपंच हिम्मतसिंह, सेमा सरपंच मनु गायरी, कोशीवाड़ा सरपंच नारायणलाल पुरोहित, कुंठवा सरपंच हीरालाल आदि मौजूद थे।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned