पौने दो घंटे के प्रयास में बना पिरामिड, तब लवाणा के युवा ने फोड़ी मटकी : गूंज उठे श्रीकृष्ण के जयकारें

मटकी फोड़ प्रतियोगिता में युवा दलों ने जोश व उत्साह के साथ भागीदारी की वहीं देखने के लिए शहरवासियों का हुजूम उमड़ पड़ा।

By: laxman singh

Published: 18 Aug 2017, 01:47 PM IST

राजसमन्द. श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व के उपलक्ष्य में जे.सी. गु्रप की ओर से नंद महोत्सव पर बुधवार रात यहां जलचक्की चौराहे पर आयोजित मटकी फोड़ प्रतियोगिता में जहां युवा दलों ने जोश व उत्साह के साथ भागीदारी की वहीं देखने के लिए शहरवासियों का हुजूम उमड़ पड़ा।


प्रतियोगिता को लेकर चौराहे पर सडक़ मार्ग के मध्य जमीन से कई फिट ऊंची रस्सी पर सजीधजी दही मटकी बांधी गई। सुरक्षा के मद्देनजर मटकी के नीचे सडक़ पर मिट्टी का फैलाव किया गया। गु्रप अध्यक्ष अशोक टांक एवं संरक्षक रमेश मेवाड़ा ने बताया कि रात करीब आठ बजे शुरू हुई स्पद्र्धा में भागीदारी के लिए आए युवा दलों ने तय क्रम अनुसार मटकी फोडऩे का प्रयास किया। इस दौरान गोविन्द जै जै गोपाल जै जै..., हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैया लाल की..., गिर्राज धरण की जय... जैसे जैकारों से पूरा परिवेश गूंजते रहे। आखिर में रात करीब पौने दस बजे बालाजी गु्रप लवाणा ने मटकी फोड़ कर जीत हासिल की। इस पर विजेता बालाजी गु्रप को जेसी गु्रप की ओर से ११ हजार १११ रुपए का पुरस्कार प्रदान देकर सम्मानित किया गया। पार्षद हेमंत रजक, राकेश प्रजापत, देवराजसिंह चारण, हीरालाल माली, विनोद मेवाड़ा, उदय गायरी, नंद कुमार, प्रभुसिंह, कुलदीप बोहरा, अविनाश गौरवा सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।

 

मनोरम झांकियों ने मोहा मन
रेलमगरा. गिलूण्ड कस्बे में संचालित विद्या निकेतन विद्यालय की ओर से बुधवार शाम को कृष्ण जन्माष्टमी पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। आयोजित कार्यक्रम के तहत स्कुली बालकों ने भगवान कृष्ण की जीवनी पर आधारित मनोरम झांकियों का जीवंत प्रदर्शन किया। कार्यक्रम का आगाज देर शाम करीब 8 बजे विद्यालय प्रबंधन समिति के सदस्यों द्वारा भगवान कृष्ण की विशेष आरती के बाद किया गया। कार्यक्रम के तहत कस्बे के ओसवाल मोहल्ल में दो दर्जन झांकियों का प्रदर्शन किया गया जिसमे भगवान कृष्ण के विभिन्न अवतार, द्रोपदी चीर हरण, कौरव, पाण्डवों के मध्य शतरंज खेल, कृष्ण की बाल लिलाए, असुर वद्य, माखन चोरी, रास लीला, गोवर्धन धारण सहित अन्य तरह की झांकिया दर्शकों के विशेष आकर्षण का केन्द्र रही। नन्हे बालकों की मनोरम झांकिया देखने के लिए कस्बे सहित आसपास के गांवों से बड़ी संख्या में दर्शकों की भीड़ उमड़ी।

laxman singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned