रेत माफिया को राजनीतिक संरक्षण दुर्भाग्यपूर्ण - माहेश्वरी

- जनसुनवाई में लोगों ने रखी अपनी समस्याएं

By: Rakesh Gandhi

Published: 24 Jul 2020, 09:07 PM IST

राजसमंद. विधायक किरण माहेश्वरी ने शुक्रवार को अपने विधायक कार्यालय पर जनसुनवाई कर जनता के अभाव अभियोग सुने। कई नागरिकों ने रेत माफिया की गुण्डागर्दी, उन्हें राजनीतिक संरक्षण एवं अवैध रेत दोहन से नदियों के अस्तित्व पर आ रहे संकट से विधायक को अवगत करवाया।
इस पर विधायक ने रेत माफिया को राजनीतिक संरक्षण देने को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार आज जन समस्याओं का समाधान करने के स्थान पर होटल में विलास कर रही है। माफिया एवं कांग्रेस एक दूसरे के लिए संजीवनी का काम कर रहे हैं। उन्होंने प्रशासन को राजनीतिक दबाव के आगे लाचार बताया। इसी बीच, जन सुनवाई शिविर में स्थानीय लोगों के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों के लोग भी पहुंचे।
शिविर में सांगठ तालाब की नहरों और राजसमंद झील की नहरों की मरम्मत एवं सफाई करवाने की समस्या पर उन्होंने जल संसाधन विभाग के अधिक्षण अभियंता से बात कर शीघ्र मरम्मत करवाने के निर्देश दिए। सार्वजनिक वितरण प्रणाली में पोश मशीनों के खराब होने, वार्ड 26 में फाइबर शेड लगाने, तालाब की प्राचीन दीवार की मरम्मत, खटीक मोहल्ले में शौचालय निर्माण, बिजली बिलों में भारी वृद्धि, देवथड़ी में सीसी सड़क निर्माण, मोही की चारभुजा गली में सामुदायिक भवन निर्माण, धांयला में कुंए एवं पानी की टंकी का निर्माण, देवरों का गुड़ा में आंगनबाड़ी का निर्माण आदि की समस्याएं सजग नागरिकों ने रखी। विधायक ने संबंधित विभागीय अधिकारियों से समस्याओं के शीघ्र निस्तारण के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
जन सुनवाई के दौरान सभापति सुरेश पालीवाल, भाजपा के जिला उपाध्यक्ष महेश आचार्य, मण्डल अध्यक्ष दिग्विजय सिंह, गणेश पालीवाल, मुकेश जोशी, महेन्द्र टेलर सहित कई वरिष्ठ कार्यकर्ता एवं नगर व ग्रामीण अंचल के प्रबुद्ध जन उपस्थित थे।

Rakesh Gandhi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned