राजसमंद में 28 एमएम बारिश, फसलों में हुआ नुकसान

किसानों की फसलें हुई चौपट
दिनभर कटी फसलों की सार-संभाल करते दिखे किसान

By: Aswani

Published: 27 Mar 2020, 06:47 PM IST

अश्वनी प्रतापसिंह @ राजसमंद. कोरोना वायरस के लॉकडाउन से जूझ रहे किसानों पर बारिश की दोहरी मार पड़ी है। पहले ही फसल कटाई के लिए किसान परेशान थे और जैसे-तैसे कटाई शुरू की, अब बारिश होने से खेतों में पानी भर गया है, जिससे फसलों की सारसंभाल की भी जिम्मेदारी आ गई। ऐसे में जहां भीगी फसलों की गुणवत्ता प्रभावित होने का डर वहीं उन्हें उठाकर सुखाने की जिम्मेदारी बढ़ गई। गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात्रि को हुई बारिश के बाद शुक्रवार को दिनभर किसान खेतों पर फसलों की सारसंभाल करते नजर आए। फसल भीग जाने से खेत से तथा थ्रेसर की कटाई का काम भी फसल सूखने तक के लिए थम गया है।


चना और जौ में ज्यादा नुकसान
गुरुवार देरशाम को तेज हवा के साथ शुरू हुई बारिश से खेतों में पानी भर गया है। जिससे फसलें आड़ी पड़ गई हैं। फसलों में दाना पड़ जाने से अब वह उठकर खड़ी नहीं होंगी, जिससे उनकी गुणवत्ता प्रभावित होगी, साथ ही उनकी कटाई का काम भी रुक गया। इधर जिन किसानों ने फसलें काट रखी हैं, उन्हें दोहरी मशक्कत करनी पड़ रही है। फसलों को उठा सूखे स्थान पर जमा करना पड़ रहा है। क्योंकि अगर शीघ्र कटी फसल को भरे पानी से हटाया नहीं गया तो फसलें सड़ सकती हैं। किसानों ने बताया कि सबसे ज्यादा नुकसान चना और जौ की फसल में हुआ है, क्योंकि दोनों फसलें कटी पड़ी हैं, जबकि गेहूं की कटाई अब शुरू हो रही है।

Aswani Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned