GOOD NEWS : शराबबंदी अभियान में पिछली हार से सबक लेकर सत्यापन में जीता थानेटा

laxman singh

Publish: Feb, 15 2018 02:15:18 (IST)

Rajsamand, Rajasthan, India
GOOD NEWS : शराबबंदी अभियान में पिछली हार से सबक लेकर सत्यापन में जीता थानेटा

काछबली- मंडावर के बाद अब थानेटा पंचायत ने भी शराब मुक्त पंचायत बनाने के लिए लोगों ने थामी पतवार

भीम. मगरा क्षेत्र में शराबबन्दी को लेकर पिछले दो वर्ष से चल रहे अभियान के तहत हाल में मण्डावर पंचायत में शराबबन्दी में अभूतपूर्व जीत मिली है तो अब इससे उत्साहित पंचायत समिति भीम की थानेटा ग्राम पंचायत में ग्रामीणों ने एकजुटता दिखाते हुए बुधवार को हुए हस्ताक्षर के भौतिक सत्यापन में जीत दर्ज कर ली है। भौतिक सत्यापन उपखण्ड अधिकारी केआर चौहान, तहसीलदार कैलाशचन्द्र नायक, पीठासीन अधिकारी विकास अधिकारी डॉ. प्रकाश सिरसाट के नेतृत्व में कराया गया। तहसीलदार नायक ने बताया कि थानेटा पंचायत में 2946 मतदाताओं में से 1420 लोगों ने शराबबन्दी के लिए ज्ञापन दिया था। उसके तहत भौतिक सत्यापन के लिए कुल मतदाताओं के 26 .03 प्रतिशत 76 7 मतदाताओं का भौतिक सत्यापन किया गया। बताया कि बीस प्रतिशत से अधिक हस्ताक्षर सत्यापन होने पर नियमानुसार उच्चाधिकारियों द्वारा मतदान प्रक्रिया की जाती है। सरपंच दीक्षा देवी ने बताया कि 76 7 यानी 20 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने भौतिक सत्यापन कराया, जिसके साथ ही थानेटा ने पहले चरण की जीत दर्ज कर ली। जीत की खुशी पर सरपंच चौहान, मंडावर सरपंच प्यारी रावत, जिला परिषद सदस्य हीरा कंवर चौहान, मगरा विकास मंच अध्यक्ष जसवन्त सिंह, अणुव्रत आंदोलन प्रवक्ता डॉ. महेंद्र कर्णावट, मण्डावर शराबबन्दी संयोजक लूम्बसिंह मण्डावर, चंद्रशेखर शर्मा, बरजाल शराबबन्दी के संयोजक गिरधारी सिंह ने हर्ष व्यक्त किया।

मण्डावर की मिसाल पहुंची थानेटा, घर-घर से लाए वोट
मंडावर सरपंच रावत के नेतृत्व में मगरा क्षेत्र के शराबबंदी से जुड़े अग्रदूतों के साथ ही मूलराज सिंह, पृथ्वीराज सिंह आदि ने पूरी टीम के साथ थानेटा के गांव-गांव में घरों तक पहुंचकर वोटरों से सत्यापन में भाग लेने के लिए पहुंचने की अपील की।

अब 20 दिन में होगा अंतिम मतदान
आबकारी अधिनियम के तहत भौतिक सत्यापन में सफल होने के बाद 20 दिवस के अंतर्गत अंतिम मतदान कराना आवश्यक होता है। इस तरह थानेटा पंचायत में 6 मार्च से पूर्व अंतिम मतदान होना संभावित है। हालांकि, इसकी घोषणा जिला कलक्टर के द्वारा की जाएगी।

शराब माफिया पर मतदाताओं को रोकने का आरोप
सरपंच चौहान ने बताया कि भौतिक सत्यापन को लेकर शराब माफिया भी सक्रिय रहा और गांव-गांव घूमकर मतदाताओं को मतदान केंद्र तक पहुंचने से रोकने के लिए भरसक प्रयत्न किए और लोगों को गुमराह करने का प्रयास किया।

पिछली हार से लिया सबक
थानेटा में पिछले वर्ष शराबबंदी को लेकर अभियान जोरों से चला था, परंतु उस समय भौतिक सत्यापन में ही हार का सामना करना पड़ा। ऐसे में अब उस हार से सबक लेते हुए ग्रामीणों ने जीत का आगाज किया है।

बढ़ा उत्साह
शराबबंदी की मुहिम में पहली जीत के साथ ग्राम पंचायत थानेटा के लोग उत्साहित हैं और अंतिम मतदान में जीतकर इतिहास रचेंगे।
दीक्षा चौहान, सरपंच, ग्राम पंचायत थानेटा

बनाएंगे शराब मुक्त
जिस उत्साह से थानेटा ग्रामवासियों ने भौतिक सत्यापन में भाग लिया। उससे दुगुने उत्साह से अंतिम मतदान में भाग लेंगे और जीतकर शराब मुक्त गांव बनाएंगे।
डॉ. महेंद्र कर्णावट, अणुव्रत आंदोलन

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned