scriptThe time to come in the country and the world will be of farming and | 'देश-दुनिया में आने वाला समय खेती-किसानी और पशुपालन का होगा' | Patrika News

'देश-दुनिया में आने वाला समय खेती-किसानी और पशुपालन का होगा'

- फेट में आगामी कुछ दिनों में 20 पैसे बढ़ाने की बात कही, डेयरी का नया प्लांट लगेगा, डेयरी में के दुग्ध उत्पादकों के कार्यक्रम में अनुदान पर उपलब्ध कराए कृषि उपकरण, विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सी.पी.जोशी और पशुपालन मंत्री लालचंद कटारिया ने की शिरकत

राजसमंद

Published: September 14, 2022 11:07:10 am

राजसमंद. देश-दुनिया में आने वाला समय खेती-किसानी और पशुपालन का होगा। सभी जगह शहरीकरण बढ़ता जा रहा है। सभी चीजों में परिवर्तन देखने को मिल रहा है, लेकिन खान-पान की चीजें तो पैदा (उगानी) करनी पड़ेगी। यह बात कृषि एवं पशुपालन मंत्री लालचंद कटारिया ने मंगलवार को मोही रोड स्थित जिला दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लिमिटेड के कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि कैंसर ने महामारी का रूप ले लिया है। खान-पान में बदलाव इसका मुख्य कारण है। इसके कारण ली लोग फिर से जैविक खेती पर जोर दे रहे हैं।
उन्होंने कहा कि वर्तमान में दुग्ध उत्पादकों को 7.50 रुपए प्रति फेट मिल रहा है। दूध के भी 51-52 रुपए लीटर मिल रहे हैं। आगामी कुछ दिनों में दूध के फेट पर 20 पैसे बढ़ाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जिले में 25 हजार गोवंश के लंपी से बचाव के लिए टीकाकारण किया गया है। पशुधन को लंपी स्किन डिजीज से बचाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। समारोह में विधानसभा अध्यक्ष सी.पी. जोशी ने कहा कि कोई भी राजनीति पार्टी हो उसकी पहली प्राथमिकता आमनज की आमदनी को बढ़ाने की होनी चाहिए। उन्हें ऐसी योजना लेकर आना चाहिए जिससे लोगों की आमदनी में इजाफा होगा। यदि व्यक्ति के पास पैसा है तो वह हर हाल में हर तकलीफ को सहन कर सकता है। बीमारी में इलाज करा सकता है, लेकिन बिना पैसे कुछ नहीं कर सकता है। पैसा बचाने का काम महिलाएं बहुत अच्छी तरह से करती है। आवश्यकता के समय वह अपनी बचत के पैसे निकालकर देती है। उन्होंने कहा कि महिलाओं की आमदनी का सोर्स बढ़ाया जाना चाहिए। यह पशुपालन से बढ़ सकता है, क्योंकि पूरे घर के साथ पशुओं का भी वही ध्यान रखती है। समारोह में नगर परिषद सभापति अशोक टांक, जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्व जिलाध्यक्ष देवकी नंदन गुर्जर, जिला कांग्रेस अध्यक्ष हरिसिंह राठौड़ और जिला कलक्टर नीलाभ सक्सेना अतिथि के रूप में मंचस्थ थे। डेयरी अध्यक्ष लक्ष्मीनारायण गुर्जर और डायरेक्टर नटवर सिंह चूंडावत ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर नगर पालिका नाथद्वारा के अध्यक्ष मनीष राठी, उपाध्यक्ष श्यामलाल, रेलमगरा प्रधान आदित्य प्रताप, खमनोर उप प्रधान वैभव राज, बहादुर सिंह चारण, डालचंद कुमावत सहित कई जनप्रतिनिधि और आमजन उपस्थित रहे।
'देश-दुनिया में आने वाला समय खेती-किसानी और पशुपालन का होगा'
 राजसमंद के सरस डेयरी में आयोजित कार्यक्रम में मंचस्थ विधानसभा अध्यक्ष डॉ. जोशी और कृषि मंत्री कटारिया व अन्य।
जीवन में पढ़ाई का विशेष महत्व, बालिका शिक्षा को दें बढ़ावा
विधानसभा अध्यक्ष डॉ. जोशी ने समारोह में कहा कि जीवन में पढ़ाई का विशेष महत्व है। उन्होंने यहां तक कहा कि मेरे माता-पिता ने मुझे पढ़ाया नहीं होता तो मैं भी नरेगा में काम कर रहा होता। इसलिए दुग्ध उत्पादक समिति के सदस्य एक फैसला कर ले कि परिवार में बच्ची दसवीं पढ़ी लिखी नहीं होगी तब तक उसकी शादी नहीं करेंगे। इससे परिवर्तन का दौर शुरू होगा। स्किल डवलपमेंट को नहीं समझेंगे तब तक हम अपनी आमदनी को नहीं बढ़ा सकेंगे। राज्य सरकार एक करोड़ महिलाओं को मुफ्त मोबाइल फोन उपलब्ध कराने जा रही है। इससे वह भी देश-दुनिया से जुड़कर परिवार का अच्छी तरह से लालन-पालन कर सकेगी।
महिलाएं संभाले डेयरी की जिम्मेदारी
डॉ. जोशी ने समारोह में कहा कि हर मां अपने बच्चों को संस्कार देती है। उन्हें यह भी बताना चाहिए कि उस पैसे को तकलीफ में कैसे काम में ले। महिलाएं ही परिवार के साथ पशुधन की देखभाल करती है। गांव के पुरुष तो चाय की दुकान पर बैठे रहते हैं। ऐसे में महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि मैं जल्द ही डेयरी अध्यक्ष और डायरेक्टर पद पर महिलाओं को काबिज होता देखना चाहता हूं।
दुग्ध संकलन 50 हजार लीटर पहुंचाने का लक्ष्य
जिला कलक्टर नीलाभ सक्सेना ने कहा कि डेयरी में 24 हजार लीटर दूध का संकलन हो रहा हैै, जिसे अगले साल तक 50 हजार लीटर करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने बताया कि आरसीडीएफ से 48 करोड़ की लागत से डेयरी का नया प्लांट लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि 5 हजार कृषकों को फलदार पौधे उपलब्ध कराए गए हैं।
लंपी स्किन डिजीज से बचाव में सभी करें सहयोग
कृषि एवं पशुपालन मंत्री कटारिया ने कहा कि देश के लंपी स्किन डिजीज ने 12 राज्यों में तांडव मचा रखा है। सभी लोग मिलकर बिना राजनीति भेदभाव से पशुधन को बचाने का कार्य करना चाहिए। सरकार की ओर से पशुओं की देखभाल और उपचार के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं।
गोवंश की नस्ल सुधार के करें प्रयास
मंत्री कटारिया ने कहा कि भीलवाड़ा, उदयपुर और राजसमंद में पशुओं की नस्ल में सुधार की आवश्यकता है। उन्होंने डेयरी के पदाधिकारियों से कहा कि एक ऐसी नीति बनाए कि हर घर में अच्छी नस्ल की गाय और सांड मिले। माता बहनों को 20-25 लीटर दूध देने वाली गाय मिल जाएगी तो उनकी आमदनी बढ़ जाएगी। इसके लिए नीति बनाकर काम करना चाहिए।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

गाय को टक्कर मारने से फिर टूटी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन की बॉडी, दो दिन में दूसरी ऐसी घटनाभैंस की टक्कर से डैमेज हुई वंदे भारत ट्रेन, मजबूती पर सवाल उठे तो सामने आया रेलवे मंत्री का जवाबगाज़ियाबाद में दिन-दहाड़े डकैती, कारोबारी की पत्नी-बेटी को बंधक बनाकर 17 लाख के ज़ेवर और 7 लाख रुपए नकद लूटेउत्तरकाशी हिमस्खलन में बरामद किए गए 7 और शव, मृतकों की संख्या बढ़कर 26 हुई, 3 की तलाश जारीNobel Prize 2022: ह्यूमन राइट एक्टिविस्ट एलेस बियालियात्स्की समेत रूस और यूक्रेन की दो संस्थाओं को मिला नोबेल पीस प्राइजयुद्ध का अखाड़ा बनी ट्रेन! सीट को लेकर भिड़ गईं महिलाएं, जमकर चले लात-घूसे, देखें वीडियोलद्दाख में लैंडस्लाइड की चपेट में आए 3 सैन्य वाहन, 6 जवानों की मौतउत्तर से दक्षिण भारत तक बारिश का अलर्ट, कर्नाटक के विभिन्न हिस्सों में बारिश जारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.