धार्मिक स्थल तोडऩे पर पांच घंटे विरोध-प्रदर्शन, देर रात फिर स्थापित की मूर्ति

तीन लोगों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज होने पर शांत हुए लोग, भाजपा से तीनों कार्यकर्ता निष्कासित की सिफारिश

By: laxman singh

Published: 03 Aug 2018, 12:56 PM IST

राजसमंद. बस स्टैंड राजनगर के नवनिर्माण के दौरान धर्म स्थल तोडऩे के आरोप को लेकर गुरुवार दोपहर बड़ी तादाद में लोग एकत्रित हो गए। धर्म स्थल तोडऩे पर एक पार्षद पति सहित तीन के विरुद्ध नामजद एफआईआर दर्ज करवाने की मांग को लेकर लोग अड़ गए। थाने से रिपोर्ट दर्ज होने की प्रतिलिपि आने पर पांच घंटे बाद लोग धरने से उठे। इससे पहले एडीएम ब्रजमोहन बैरवा के साथ कई पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने समझाइश के प्रयास किए, मगर लोग नहीं माने। इधर, भाजपा के तीनों कार्यकर्ताओं को पार्टी से निष्कासित करने के लिए रिपोर्ट जयपुर भेज दी।

विहिप, बजरंग दल, कांगे्रस के साथ भाजपा के भी कई कार्यकर्ता दोपहर दो बजे राजनगर बस स्टैंड पर एकत्रित हो गए। एक समुदाय का धार्मिक स्थल तोडऩे व दूसरे समाज का धर्म स्थल बीच रास्ते में होने पर भी नहीं तोडऩे पर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। बाद में राजनगर थाना प्रभारी दिनेश सुखवाल, कांकरोली थाना प्रभारी गोविंदसिंह व उपखंड अधिकारी राजेंद्र प्रसाद अग्रवाल ने पहुंचकर समझाइश की, मगर लोग नहीं माने। लोगों ने एडीएम के समक्ष बताया कि पार्षद पति कैलाश निष्कलंक, पूर्व पार्षद बद्रीलाल भोई व मनोनीत पार्षद रामचंद्र प्रजापत द्वारा धर्मस्थल तोड़ा गया। इसलिए तीनों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया जाए। बाद में थाने में रिपोर्ट दर्ज कर ली। भाजपा जिलाध्यक्ष भंवरलाल शर्मा ने बताया कि निष्कलंक, भोर्ठ व प्रजापत को पार्टी से निष्कासित करने के लिए रिपोर्ट मुख्यालय भेज दी है। इधर, नगरपरिषद ने बस स्टैंड निर्धारित स्थल पर चबुतरे का निर्माण कर देर रात मूर्ति स्थापना कर दी गई। इससे पहले सभापति सुरेश पालीवाल व आयुक्त ब्रजेश रॉय ने भी पहुंचकर समझाइश की। इस दौरान विहिप के भगवतीलाल पालीवाल, लीलेश खत्री, प्रदीप खत्री, दिनेश पालीवाल, हेमेंद्र खत्री, शैलेष चोरडिय़ा, देवीलाल साहू, भगवानसिंह, प्रकाश पालीवाल, भरत पालीवाल, महेंद्रसिंह चौहान, अशोक रांका, नर्बदाशंकर पालीवाल, नगरपषिद प्रतिपक्ष नेता अशोक टांक, चुन्नीलाल पंचोली, खुशकमल कुमावत, ब्रजेश पालीवाल, गणेश कुमावत आदि मौजूद थे। इधर, पार्षद पति कैलाश निष्कलंक बोले कि बस स्टैंड पर धर्म स्थानक पहले से था। 1 अगस्त के दिन मंदिर नहीं होने की बात कही थी। कुछ लोगों ने द्वेषता से मेरे विरुद्ध आमजन को भडक़ाया है।

Show More
laxman singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned