VIDEO : चुरू व नागौर के दो श्रमिक राजसमंद झील में डूबे

- गे्रनाइट फैक्ट्री में अमावस की छुट्टी होने पर झील किनारे भ्रमण आए

By: laxman singh

Published: 16 May 2018, 08:47 AM IST

राजसमंद. कांकरोली थानान्तर्गत सिंचाई उद्यान के पास मंगलवार दोपहर चुरू व नागौर के दो श्रमिक राजसमंद झील में डूब गए। तभी गोताखोर युवकों ने छलांग लगा दोनों श्रमिकों को बाहर निकाले और जिला अस्पताल पहुंचाया, तब तक दम तोड़ दिया। पुलिस के अनुसार सम्राट होटल के पीछेे, सुजानगढ़ (चुरू) निवासी इमरान (19) पुत्र रफीक खान एवं बालिया, डीडवाना (नागौर) निवासी इशहाक (18) पुत्र दलिफ खान जेतपुरा के पास लक्ष्मी गे्रनाइट फैक्ट्री में कार्य करते हैं। मंगलवार को अमावस की छुट्टी के चलते दोनों श्रमिक राजसमंद झील के सिंचाई उद्यान पर भ्रमण के लिए पहुंचे, जहां दोपहर तीन बजे रमजान को तैरना नहीं आते हुए भी झील में नहाने के लिए उतर गया। गहरे पानी में जाकर डूबने लगा, जिसे देखकर इशहाक ने बचाने के लिए छलांग दी। इस पर रमजान ने इशहाक का पकड़ लिया, जिससे दोनों ही डूब गए। यह देख कर तैराकों ने झील में छलांग लगा कर डूबते दोनों युवकों को बाहर निकलवाया और तत्काल एम्बुलेंस से आरके जिला अस्पताल पहुंचा दिया। सूचना पर कांकरोली थाने से हैड कांस्टेबल लीलाधर मय जाब्ते के मौके पर पहुंचे। बाद में जिला अस्पताल पहुंच कर दोनों युवकों के शव मुर्दाघर में रखवा दिए। साथ ही परिजनों को सूचित कर दिया। अब परिजनों के आने के बाद बुधवार को शव के पोस्टमार्टम हो पाएंगे।


फैली सनसनी, झील किनारे भीड़
राजसमंद झील में दो युवकों के डूबने की घटना के बाद पूरे शहर में सनसनी फैल गई। देखते ही देखते शहर के बड़ी तादाद में लोग एकत्रित हो गए, तब तक जागरुक तैराक युवकों ने झील में डूबे दोनों युवकों को बाहर निकाल लिया।


नहीं कोई रोकने-टोकने वाला
शहर के सिंचाई उद्यान व नौचोकी पाल क्षेत्र में रोज कई लोग झील के पानी में उतर कर नहाते व कपड़े धोते हैं, मगर उन्हें रोकने व टोकने वाला कोई नहीं। पिछले एक माह में नहाते वक्त डूबने की यह तीसरी घटना हो गई। फिर भी पुलिस व प्रशासन द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

Show More
laxman singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned