scriptकिसानों पर कहर बनकर टूटी बेमौसम बारिश, गेहूं की फसल को नुकसान, महंगी हो सकती है रोटी | Patrika News
राजसमंद

किसानों पर कहर बनकर टूटी बेमौसम बारिश, गेहूं की फसल को नुकसान, महंगी हो सकती है रोटी

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के अनुसार प्रदेश में आएमएस 2024-25 के दौरान समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद की जा रही है। समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीद के लिए पंजीयन का कार्य 20 जनवरी से जारी है। वर्तमान में रजिस्ट्रेशन के साथ खरीद जारी है।

राजसमंदApr 19, 2024 / 11:23 am

जमील खान

Unseasonable Rain : राजसमंद. जिले में पिछले दिनों हुई बेमौसम बारिश किसानों के लिए परेशानी का कारण बन गई है। बारिश के कारण खेतों में कटी पड़ी गेहूं की क्वालिटी में गिरावट आई है। इसके कारण समर्थन मूल्य पर खरीद नहीं हो रही है। खरीद में शिथिलता देने लिए पत्र लिखा है। जिले में अब तक 90 प्रतिशत फसलों की कटाई हो चुकी है। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के अनुसार प्रदेश में आएमएस 2024-25 के दौरान समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद की जा रही है। समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीद के लिए पंजीयन का कार्य 20 जनवरी से जारी है। वर्तमान में रजिस्ट्रेशन के साथ खरीद जारी है।
जिले में गेहूं की फसल की कटाई जारी है। अब तक 90 प्रतिशत गेहूं की कटाई हो चुकी है, लेकिन कटाई के बाद फसलें खेतों में पड़ी है। गत दिनों हुई बेमौसम बारिश के कारण कई जगह गेहूं चमकहीन हो गया है। इसके कारण समर्थन मूल्य पर खरीद में परेशानी हो रही है। इससे किसानों भी हताश और निराश हो रहे हैं। हालांकि उक्त समस्या के समाधान के लिए जिला रसद अधिकारी को पत्र लिखकर जिला प्रशासन के माध्यम से सरकार की ओर से खरीद में शिथिलता प्रदान करने की मांग की है।
उल्लेखनीय है कि 4 अप्रेल से कांकरोली स्थित खरीद केन्द्र पर गेहूं की खरीद की जा रही है। समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद के लिए 2400 रुपए प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है। सर्वाधिक रजिस्ट्रेशन कांकरोली में… जिले में सर्वाधिक कांकरोली में 96 रजिस्ट्रेशन हुए हैं। इसी प्रकार कुंवारिया में 10, नाथद्वारा में तीन, पीपली डोडियाना में 18, मदारा में 8, रेलमगरा में 4, कुरज 12 किसानों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। इसी प्रकार ओड़ा में एक और राज्यावास 05 में रजिस्ट्रेशन हुए हैं। कोटड़ी में एक भी रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ है। इसमें से कांकरोली केन्द्र पर 1992.50 क्विंटल एवं मदारा स्थित खरीद केन्द्र पर 66 क्विंटल की खरीद की गई है।
157 किसानों ने खरीद के लिए कराया रजिस्ट्रेशन, 2058 क्विंटल की हुई खरीद
बारिश ने किया हाल खराब
गेहूं की बिक्री के लिए टे्रेक्टर लेकर आया हूं। गेहूं कटाई के बाद खेतों में पड़ा था, बारिश के कारण गेहूं चमकहीन हो गया है। अब समर्थन मूल्य पर खरीद के लिए आया हूं। – रामलाल कुमावत, काश्तकार
शिथिलता दी जानी चाहिए
बेमौसम बारिश ने काश्तकारों की चिंता बढ़ा दी है। खेतों में कटाई के बाद गेहूं पड़ा है। इसके कारण क्वालिटी खराब हो रही है। समर्थन मूल्य पर खरीद पर शिथिलता मिलनी चाहिए। – मांगीलाल कुमावत, काश्तकार
क्वालिटी में आई गिरावट, शिथिलता के लिए लिखा पत्र
समर्थन मूल्य पर खरीद जारी है। बेमौसम बारिश के कारण क्वालिटी में गिरावट आई है। समर्थन मूल्य पर खरीद में शिथिलता की मांग को लेकर जिला प्रशासन के माध्यम से पत्र लिखा गया है। अन्य जिलों में भी कमेटी ने निरीक्षण किया है। खरीद में शिथिलता मिलने पर खरीद में और तेजी आने की उमीद है। – सुरेन्द्र नाथावत, किस्म निरीक्षक कृषि उपज मंडी, कांकरोली

Hindi News/ Rajsamand / किसानों पर कहर बनकर टूटी बेमौसम बारिश, गेहूं की फसल को नुकसान, महंगी हो सकती है रोटी

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो