पुलिसकर्मी की दबंगई, सरेआम लट्ठ से कुछ लोगों को बेरहमी से पीटा, वीडियो वायरल

शहर के मुखर्जी चौराहे पर तीन दिन पहले एक पुलिसकर्मी ने सरेआम लट्ठ से वार कर कुछ लोगों को बेरहमी से पीट दिया।

राजसमंद। शहर के मुखर्जी चौराहे पर तीन दिन पहले एक पुलिसकर्मी ने सरेआम लट्ठ से वार कर कुछ लोगों को बेरहमी से पीट दिया। पुलिसकर्मी की दबंगई देख कर नगरपरिषद प्रतिपक्ष नेता अशोक टांक ने पुलिस के बर्ताव पर आक्रोश जताया। टांक की पुलिस जवानों से तीखी तकरार हो गई। घटना के तीसरे दिन शुक्रवार को सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ, तो पुलिसकर्मी की दबंगई खुलकर सामने आ गई।

वायरल हुए वीडियो के मुताबिक मुखर्जी चौराहे पर एक पुलिसकर्मी हाथ में लट्ठ लेकर किसी को पीटते हुए दिखाई दे रहा है। वह लात भी मारते हुए नजर आया। इस पर उधर से गुजर रहे नगरपरिषद प्रतिपक्ष नेता अशोक टांक मौके पर पहुंच गए और पुलिसकर्मी द्वारा सरेआम मारपीट करने पर आपत्ति जताई। इस पर पुलिसकर्मी ने टांक को भी आंखें दिखाई, तो टांक बोले कि इन्हें क्या मार रहे हो। इस पर पुलिसकर्मी व टांक के बीच तीखी तकरार भी हुई, तब तक पुलिस थाने की कार से आधा दर्जन से ज्यादा जवान नीचे उतरे, जिन्होंने टांक से समझाइश करते हुए पुलिस जवान को इधर- उधर किया। शहर में सरेआम पुलिसकर्मी की दबंगई से एक बारगी व्यापारियों के साथ क्षेत्रीय लोग भी सहम गए।

यह था मामला
सूत्रों के मुताबिक भील मगरा, जलचक्की के बैरवा समुदाय के कुछ युवकों का उसी मोहल्ले के अन्य युवकों से मारपीट हो गई। कथित तौर पर हमलावर आरोपी आए दिन सलूस रोड पर महिलाओं से अभद्रता व फब्तियां कसते रहते हैं। इसकी शिकायत के बाद भी पुलिस द्वारा कार्रवाई नहीं की जाती। उल्लेखनीय है कि बैरवा समाज द्वारा दिए परिवाद में आरोप है कि कुछ युवक आए दिन गाली गलोच व युवतियां से छेड़छाड़ करते हैं। इस पर पुलिस ने एक युवक को शांतिभंग में गिरफ्तार पाबंद कर दिया, जबकि दूसरा आरोपी अब भी फरार है।

सरेआम पीट रहे थे पुलिस वाले
'मैं मुखर्जी चौराहे से घर की तरफ जा रहा था, तभी किसी को सरेआम पुलिसकर्मी लाठी से पीटते दिखे व हो-हल्ला देखकर मैं रूका। इस पर पुलिसकर्मी मुझसे भी उलझ गया। तब तक पुलिस की कार आई, जिसमें अन्य पुलिसकर्मियों ने विवाद शांत कराया।Ó
- अशोक टांक, प्रतिपक्ष नेता- नगरपरिषद, राजसमंद

झगड़ रहे थे दो पक्ष, की समझाइश
बैरवा समाज की तरफ से दो युवकों के विरुद्ध छेड़छाड़, गाली गलोच व मारपीट की रिपोर्ट आई। इस पर एक को शांतिभंग में गिरफ्तार किया, जबकि दूसरा फरार है। मुखर्जी चौराहे पर पुलिस जवानों समझाइश की है, जहां मारपीट जैसी कोई बात नहीं है।
- रविंद्र चारण, थाना प्रभारी, कांकरोली

हां की है समझाइश
तीन दिन पहले जलचक्की पर दो पक्ष झगड़ गए थे। फिर मुखर्जी चौराहे पर झगड़ते देख पुलिस मौके पर पहुंची और समझाइश की गई थी।
- भुवन भूषण यादव, पुलिस अधीक्षक राजसमंद

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned