पुलिस में होने के बाद भी नादान ही रही यह महिला सब इंस्पेक्टर

(Jharkhand News ) आपने आम लोगों को झांसा देकर अपना उल्लू सीधा करने के किस्से देखे-सुने होंगे पर कोई न सिर्फ कानून के जानकार बल्कि उसकी पालना कराने वाले को ही झांसा देकर (Lady sub inspector trap in love ) फांस लें तो इसे नादानी ही कहा (Lady sub inspector lodged FIR of physical explotation) जाएगा। पुलिस ने महिला सब इंस्पेक्टर (प्रशिक्षु) को विवाह का झांसा देकर दुष्कर्म करने के आरोप में पुलिसकर्मी को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में थाना प्रभारी को निलंबित होना पड़ गया।

By: Yogendra Yogi

Published: 28 Aug 2020, 07:44 PM IST

रामगढ़(झारखंड): (Jharkhand News ) आपने आम लोगों को झांसा देकर अपना उल्लू सीधा करने के किस्से देखे-सुने होंगे पर कोई न सिर्फ कानून के जानकार बल्कि उसकी पालना कराने वाले को ही झांसा देकर (Lady sub inspector trap in love ) फांस लें तो इसे नादानी ही कहा (Lady sub inspector lodged FIR of physical explotation) जाएगा। ऐसा ही हुआ पुलिस के साथ, जब एक महिला सब इंस्पेक्टर (प्रशिक्षु) अपने विभाग के एक कंप्युटर ऑपरेटर के झांसे में आ गई। झांसे में आई सब इंस्पेक्टर को जब इसकी सच्चाई समझ में आई तो अपने ही थाने में मामला दर्ज करा दिया। पुलिस ने विवाह का झांसा देकर दुष्कर्म करने के आरोप में पुलिसकर्मी कंप्युटर ऑपरेटर को गिरफ्तार कर लिया। मोहब्बत के झांसे के इस प्रकरण की गाज गिरी थाना प्रभारी पर। थाना प्रभारी को निलंबित होना पड़ गया।

यौन शोषण किया
यह दिलचस्प मामला है झारखंड के रामगढ़ जिले के मांडू थाने का। इस थाने में कार्यरत आदिवासी महिला सब इंस्पेक्टर (प्रशिक्षु) की थाने में कार्यरत कंप्युटर ऑपरेटर मीराज अंसारी से आंखे चार हो गई। यह सब हुआ जब सब इंस्पेक्टर मांडू थाने में योगदान देने के बाद ऑपरेटर मेराज अंसारी के पास जाकर विभिन्न कांडों की ऑनलाइन इंट्री करना सीख रही थी। एक दिन उसने इंट्री सिखाने के नाम पर उसे रात में अपने कमरे में बुलाया। यहीं उसके साथ शारीरिक संबंध बना लिया। इसके बाद उसे शादी का प्रलोभन देकर लगातार उसका यौन शोषण करता रहा।

शादी का झांसा
महिला थाने में दिए गए आवेदन में उसने कहा था कि कंप्यूटर ऑपरेटर मिराज अंसारी जब मांडू थाना में पदस्थापित था, तब उन दोनों के बीच प्रेम संबंध हुआ था। मिराज ने उस महिला पदाधिकारी को शादी का झांसा दिया और लगभग 6 महीने तक संबंध में रहे। लगभग एक महीने पहले मीराज अंसारी का तबादला मांडू थाने से रामगढ़ थाने में कर दिया गया। इसी बीच मेराज अंसारी छुट्टी पर घर गया तो वह शादी कर लौटा। पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि मीराज अंसारी ने उसके साथ धोखा किया है। उसने उसे बिना कुछ बताए चुपके से शादी कर ली।

गर्भवती हो गई
महिला सब इंस्पेक्टर ने कहा है कि 6 महीने के दौरान जब वह गर्भवती हो गई, तो उसका जबरन गर्भपात भी करा दिया। इसके बाद आपॅरेटर ने उससे शादी करने से साफ इन्कार कर दिया। इसके बाद उसे शादी का प्रलोभन देकर लगातार उसका यौन शोषण करता रहा। महिला उपनिरीक्षक की लिखित शिकायत पर उसी थाने में तैनात 28 वर्षीय सिपाही मेराज अंसारी को गिरफ्तार कर लिया गया। मेराज अंसारी मांडू थाना में कंप्यूटर ऑपरेटर के तौर पर कार्यरत था। इस मामले में लापरवाही बरतने की गाज गिरी मांडू के थाना प्रभारी रामवृक्ष प्रसाद पर। पुलिस अधीक्षक ने प्रसाद को निलंबित कर दिया।

Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned