राजधानी में रेलवे की बड़ी लापरवाही, जानिए क्या हुआ?

झारखंड की राजधानी रांची में रेलवे विभाग की ओर से एक बड़ी लापरवाही की गई...

मुरी। झारखंड की राजधानी रांची में रेलवे विभाग की ओर से एक बड़ी लापरवाही की गई। बुधवार को जम्मूतवी एक्सप्रेस मुरी यार्ड से ही टाटा रवाना हो गई। इससे टाटा जानेवाले करीब दो दर्जन यात्री स्टेशन पर ही छूट गए जबकि उनका सामान ट्रेन में चला गया।

जम्मूतवी से आने के क्रम में मुरी जंक्शन पर रांची-राउरकेला और टाटा के रेक को अलग-अलग कर दिया जाता है। सुबह करीब 11 बजे जम्मूतवी से आई ट्रेन बुधवार को प्लेटफार्म नंबर तीन पर लगी। प्लेटफार्म खाली नहीं होने के कारण टाटा जानेवाली रेक को अलग कर लाइन संख्या पांच पर खड़ा कर दिया गया। कुछ समय के बाद इसे टाटा के लिए रवाना कर दिया गया।

स्टेशन पर चाय-पानी के लिए उतरे करीब 25 यात्री मुरी में ही छूट गए। ट्रेन रवाना होने पर यात्रियों को इसका पता चला तो वहां अफरा-तफरी मच गई। बाद में ये यात्री शाम को बरकाकाना-टाटा पैसेंजर से रवाना हुए। इससे पहले उन्होंने अपने परिजनों को फोन कर ट्रेन में छूटे सामान को जमशेदपुर में उतरवाया।

रांची से धनबाद जानेवाली पैसेंजर ट्रेन को गंगाघाट स्टेशन पर दो मालगाड़ियों के बीच खड़ा कर दिया गया। ट्रेन तकरीबन 12 बजे गंगाघाट पहुंची थी। मालगाड़ी के बीच खड़ी ट्रेन से यात्रियों को उतरने में काफी दिक्कत हुई। कुछ यात्री जान जोखिम में डालकर मालगाड़ी के नीचे से पार हुए।
श्रीबाबू गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned