रोजगार की नहीं, घर-परिवार की चिंता है मजदूरों को

( Jharkhand News) अपने घर का सुख क्या होता है, दूसरे राज्यों में फंसे श्रमिकों ( Jharkhand labours ) से बेहतर शायद ही कोई इसे समझ सकता है। ( Employment is not a matter ) इसी क्रम में झारखंड में ( Laoubrs returning to Jharkhand ) मजदूर लगातार दूसरे राज्यों से लौट रहे हैं। आंध्र प्रदेश के कुरन्नुल स्टेशन से 140 प्रवासी मजदूर आज रामगढ़ जिले के बरकाकाना ( Labour special train ) जंक्शन पहुंचे।

By: Yogendra Yogi

Published: 09 May 2020, 08:31 PM IST

रामगढ़(झारखंड)रवि सिन्हा: ( Jharkhand News) अपने घर का सुख क्या होता है, दूसरे राज्यों में फंसे श्रमिकों ( Jharkhand labours ) से बेहतर शायद ही कोई इसे समझ सकता है। यही वजह है कि श्रमिकों ( Labour special train ) की जैसे भी हो अपनों घरों को वापसी हो रही है। उन्हें चिंता इस बात की नहीं है कि जिस रोजगार ( Employment is not a matter ) के लिए गए थे, आगे उसका क्या होगा, उनकी चिंता यही है कि जैसे भी अपने घर-परिवार के पास पहुंचे। इसी क्रम में झारखंड में ( Laoubrs returning to Jharkhand ) लगातार मजदूर दूसरे राज्यों से लौट रहे हैं। आंध्र प्रदेश के कुरन्नुल स्टेशन से 140 प्रवासी मजदूर आज रामगढ़ जिले के बरकाकाना जंक्शन पहुंचे।

श्रमिक स्पेशल से आए
श्रमिक स्पेशल ट्रेन से पहुंचने वाले सभी मजदूरों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाते हुए बसों से उनके संबंधित जिले में भेज दिया गया। श्रमिक स्पेशल ट्रेन से बड़काकाना स्टेशन पहुंचने पर सभी प्रवासी मजदूरों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाते हुए जिले के पुलिस अधीक्षक ने बसों में बैठाने की मुक्कमल व्यवस्था करवाई। बसों में सभी मजदूरों को खाने-पीने की पैकेट के साथ सेनिटाइजर भी मुहैया कराया गया। इन सभी को अब राज्य के विभिन्न जिलों में भेजने की प्रक्रिया की जा रही है।

1140 मजदूर लौटे
जिला पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आज टोटल 1140 प्रवासी मजदूर कुरन्नुल से यहाँ आये है जिसमे झारखंड के सभी जिलों सहित बाहर के भी कुछ लोग है। इधर, प्रवासी मजदूरों को लेकर एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन कल देर शाम बोकारो रेलवे स्टेशन पहुंचेगी। आद्रा रेल डिविजन के ए आर एम प्रभात कुमार और जिले के उपविकास आयुक्त रवि रंजन मिश्रा ने बोकारो रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया और प्रवासी मजदूरों के स्वास्थ्य की जांच और उन्हें उनके गृह जिला भेजने की तैयारियों का जायजा लिया।

किए गए सारे इंतजाम
उप विकास आयुक्त रवि रंजन मिश्रा ने कहा कि श्रमिकों को किसी तरह की कोई कठिनाई नहीं होगी। खाने पीने से लेकर उन्हें उनके घर तक भेजने की व्यवस्था की गई है। इस मौके पर आद्रा रेल डिवीजन के एआरएम प्रभात कुमार ने बताया कि कल आने वाले स्पेशल ट्रेन में 11से 12 सौ के बीच श्रमिकों के आने की सम्भावना है। बोकारो से दूर के जिलों के मजदूरों को उनके कोच से पहले उतारा जाएगा। इसी श्रृखंला में सभी को स्टेशन के बाहर लाने की व्यवस्था की गई है।उनके स्वास्थ्य की जांच के बाद उन्हें उनके गृह जिला भेजा जाएगा। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, महाराष्ट्र के औरंगाबाद में घटी घटना के बाद रोड साइड पडऩे वाले आद्रा डिवीजन के सभी स्टेशनों को अलटज़् कर दिया गया है। किसी भी तरह के मूवमेंट की सूचना तुरंत स्टेशन प्रबंधक और आरपीएफ को देने का निर्देश दिया गया है।

Show More
Yogendra Yogi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned