सत्ता बदलने पर Azam Khan पर झूठे केस लगाने वाले अधिकारियों और मंत्रियों को बख्शा नहीं जाएगा: Akhilesh Yadav

Highlights:

-Akhilesh Yadav ने योगी सरकार पर जमकर हमला बोला

-अखिलेश ने कहा कि Azam Khan डरने वाले नहीं है और ना ही उनके शहर के लोग डरने वाले हैं

-वे घर से निकलकर बंपर वोटिंग करेंगे

रामपुर। उपचुनाव (Rampur Byelection) के चलते सपा उम्मीदवार और आजम खान (Azam Khan Wife) की पत्नी तंजीन फातिमा (Tanzin Fatima) के लिए जनसभा को संबोधित करने पहुंचे अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने योगी सरकार पर जमकर हमला बोला। अखिलेश यादव ने अपने 35 मिनट के संबोधन में कहा कि सत्ता बदलने के बाद उन अधिकारियों और मंत्रियों को बख्शा नहीं जाएगा जिन्होंने आजम खान जैसी शख्सियत के खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज कर उन्हें परेशान करने की कोशिश की है। आजम खान डरने वाले नहीं है और ना ही उनके शहर के लोग डरने वाले हैं। वे घर से निकलकर बंपर वोटिंग करेंगे और आजम खान की पत्नी तंजीन फातिमा को जताकर विधानसभा में जरूर भेजने का काम करेंगे।

यह भी पढ़ें : अखिलेश बोले सीएम योगी नहीं हैं, योगी वो होता है जो दूसरों का दर्द समझता है

उन्होंने कहा कि वह योगी नहीं है, सिर्फ आदित्यनाथ हैं। योगी वह होता है जो दूसरों का दर्द जानता है, लेकिन वह नहीं जानते। लखनऊ की कानून व्यवस्था क्या है, यह उस नेता की मां को सुनकर पता चल जाएगा । हमने पुलिस के जवानों को डायल हंड्रेड दी। योगी आदित्यनाथ ने सब बर्बाद कर दी। आजम खान साहब पर जितने मुकदमे लगाए गए हैं उनसे आपको डरना नहीं है बल्कि हर हाल में आपको अपने घर से निकलकर वोटिंग करने जाना है। और इस बार आजम खान की पत्नी को जिताना है।

अखिलेश यादव ने कहा कि पुलिस प्रशासन हमें सत्ता चलाना बता रहे हैं। लेकिन वह भूल रहे हैं कि सत्ता हमेशा सत्ता चलाने वाले ही चलाते हैं। सरकार बदलने के बाद अगर कोई बहुत जल्द बदलता है तो वह है पुलिस। सरकार बदलने के बाद से ही रामपुर कन्नौज और इटावा पर सरकार और सरकारी तंत्र की नजरें जमी हुई हैं। वहां जान बूझकर के सपाईयों पर कार्रवाई की जा रही है। सरकार बदलने के बाद किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा। कमलेश तिवारी हत्याकांड पर अखिलेश यादव ने कहा कि कितनी घटनाएं बताएं। अभी जो घटना लखनऊ में हुई है जिसमें एक हिंदू महासभा का नेता की हत्या कर दी गई।उनकी मां कह रही हैं कि हमें सुरक्षा अगर कभी मिली थी तो समाजवादी सरकार में मिली थी। आजम खान साहब के जमाने में सुरक्षा मिली थी। लेकिन इस योगी सरकार ने सुरक्षा नहीं दी और उसी का परिणाम है कि उनके बेटे की हत्या हो गई।

Rahul Chauhan
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned