रामपुर में 25 हिंदू परिवारों धर्म परिवर्तन की सूचना पर हंगामा, हिन्दूवादी नेताओं ने किया विरोध

हिंदू परिवारों से दूसरे धर्म की प्रार्थना करने वाले युवक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग, प्रार्थना करने वाले परिवारों ने कहा हमने नहीं किया धर्म परिवर्तन सिर्फ की प्रार्थना

By: shivmani tyagi

Updated: 06 Jul 2021, 04:53 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
रामपुर ( rampur) एक साथ 25 परिवारों के कथित रूप से धर्मपरिवर्तन ( Religion change ) किये जाने की सूचना ने रामपुर के एक गांव में हंगमा करा दिया। सूचना थी कि एक गांव में कुछ लोगों को यीशु मसीह की प्रार्थना कराई जा रही है। इस सूचना पर हिंदू संगठन के लोग गांव पहुंच गए और विवाद हो गया. विवाद के बाद पुलिस पहुंच गई। घटना के विरोध में हिंदू संगठन के लोगों ने थाने में भी प्रदर्शन ( Protest ) किया और प्रार्थना करा रहे युवक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की।

यह भी पढ़ें: चुनाव 2022 से पहले फिर बाहर आया मुजफ्फरनगर दंगों का जिन्न, गुस्साए लोगों ने फूंका आबू आजमी का पुतला

यह पूरा मामला कोतवाली मिलक के लोहा पट्टी गाँव का है। यहां 25 परिवारों को एक शख्स यीशु मसीह की प्रार्थना करा रहा था। इसी बात को लेकर हिन्दू संगठन भड़क गए। मौके पर हंगामे को देखते हुए गांव में पंचायत बुला ली गई। पंचायत में इन परिवारों को धर्म परिवर्तन ना करने की बात कहते हुए सख्त शब्दों में हिदायत दी गई कि वह यीशु की प्रार्थना नहीं करेंगे। गांव के जो लोग प्रार्थना में शामिल थे उन्होंने पंचायत की बात मानने से इंकार कर दिया और कह दिया कि हमने कोई धर्म परिवर्तन नहीं किया है लेकिन हम सभी प्रभु यीशु की प्रार्थना करेंगे। पंचायत में इन परिवारों का जो जवाब आया है उसके बाद गांव में माहौल गर्म है और इस पूरे मामले को धर्म परिवर्तन से जोड़कर देखा जा रहा है। इस पूरे मामले गांव प्रधान का कहना है कि जो परिवार प्रार्थना में शामिल हुए हैं वह सभी जाटव समाज से ताल्लुक रखते हैं। जब इन 25 परिवारों से बात की गई तो इन्होंने साफ शब्दों में धर्म परिवर्तन करने की बात से इंकार कर दिया। बोले कि हमने कोई धर्म परिवर्तन नहीं किया है लेकिन हम प्रभु यीशु में आस्था रखते हैं और उनकी प्रार्थना कर रहे थे। हमारा धर्म वही है हम जिस धर्म में थे।।केवल हमने प्रभु यीशु की प्रार्थना की है।

विरोध के बाद दहशत में हैं परिवार
यीशु मसीह की प्रार्थना करने वाले परिवार अब दहशत में हैं। दरअसल उनकी प्रार्थना सभा के बाद हिंदू वादी नेता विरोध कर रहे हैं और इसी को लेकर अब इन परिवारों को अपनी सुरक्षा की चिंता भी सता रही है। मामला पुलिस थाने तक पहुंच चुका है और पुलिस अपनी जांच कर रही है। अब पुलिस जांच में साफ होगा कि यह पूरा माजरा क्या है। फिलहाल गांव में तनाव को देखते हुए फोर्स तैनात कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: गोमती रिवर फ्रंट घोटाला : एक ही काम के लिए दंपत्ति ने डाला टेंडर, पत्नी को मिला ठेका

यह भी पढ़ें: Monsoon Update: 18 साल में मानसून की सबसे धीमी चाल, 8 जुलाई के बाद होगी झमाझम बारिश

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned