यूपी में अब बदला जाएगा सपा के शासनकाल में बने इस आलीशान पार्क का नाम

Highlights

- देश के पहले शिक्षामंत्री के नाम पर रखा जाएगा मुमताज पार्क का नाम

- फिलहाल सांसद आजम खान के पिता के नाम पर है पार्क का नाम

- सपा के शासनकाल में अगस्त 2013 में किया गया था उद्घाटन

By: lokesh verma

Published: 29 Nov 2020, 04:13 PM IST

रामपुर. योगीराज में नाम बदलने की प्रक्रिया कोई नई नहीं है। अब इस कड़ी में समाजवादी पार्टी के शासनकाल में बनाए गए मुमताज पार्क का नाम बदलने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। बता दें कि सपा सांसद आजम खान के पिता के नाम पर बने मुमताज पार्क का नाम बदलकर देश के पहले शिक्षामंत्री और रामपुर के पहले सांसद मौलाना अबुल कलाम आजाद के नाम पर रखा जाएगा। प्रशासन ने मंथन के बाद नाम बदलने को मंजूूरी दे दी है।

यह भी पढ़ें- UP Top News : सीएम योगी ने यूपी की जनता को 2500 से ज्यादा सड़कों का दिया तोहफा, बरेली में लव जिहाद पहला केस दर्ज

उल्लेखनीय है कि सपा शासनकाल में रामपुर में आलीशान मुमताज पार्क का निर्माण कराया गया था। इस पार्क के निर्माण के लिए जिला जेल की ओर से प्रस्ताव सरकार को भेजा गया था। उस दौरान आजम खान नगर विकास मंत्री थे। उस दौरान केवल दस माह में पार्क का निर्माण किया गया था। अमृत योजना के तहत बनाए गए इस पार्क में करीब 60 लाख रुपए की लागत आई थी। वहीं, उद्घाटन पूर्व नगर पालिकाध्यक्ष अजहर अहमद खान ने किया था। अगस्त 2013 में पार्क के उद्घाटन बाद भी ताले नहीं खोले गए थे। पार्क का नाम आजम खान के पिता मुमताज खान के नाम पर मुमताज पार्क रखा गया। जिला प्रशासन के अथक प्रयासों के बाद 11 महीने पूर्व ही इसे आम लोगों के लिए खोला गया था।

बता दें कि भाजपा लघु उद्योग प्रकोष्ठ के वेस्ट यूपी संयोजक आकाश सक्सेना हनी ने डीएम से शिकायत की थी कि पार्क को सरकारी पैसे से बनाया गया है। इसलिए पार्क का नाम बदलकर भारत-पाकिस्तान युद्ध में शहीद वीर अब्दुल हमीद के नाम पर रखा जाए। इसको लेकर प्रशासनिक अफसरों ने काफी मंथन किया। अधिकारियों के मंथन के दौरान यह पता चला कि देश के पहले शिक्षामंत्री रहे रामपुर के पहले सांसद मौलाना अबुल कलाम आजाद के नाम पर कोई स्थल नहीं है। इसलिए उनके नाम पर ही पार्क का नाम रखा जाएगा। डीएम ने मौलाना अबुल कलाम आजाद के नाम पर मंजूरी दी है। इसलिए जल्द ही पार्क का नाम बदला जाएगा।

जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने बताया कि मुमताज पार्क सरकारी धनराशि से बनाया गया है। इसके मौजूदा नाम पर कुछ लोगों को आपत्ति थी। शिकायत में कहा गया कि सरकारी पैसे बने पार्क का नाम कोई नेता अपने पिता के नाम पर आखिर कैसे रख सकता है, जिन्होंने देश या जिले के लिए कोई योगदान भी नहीं दिया। नाम बदलने के लिए कई सुझाव मिले। विचार-विमर्श के बाद अब इस पार्क का नाम देश के पहले शिक्षामंत्री और रामपुर के पहले सांसद मौलाना अबुल कलाम आजाद के नाम पर रखा जाएगा।

यह भी पढ़ें- अंबेडकर की मूर्ति के जीर्णाधार को लेकर आमने-सामने आए पुलिस और ग्रामीण, कोतवाली का किया घेराव

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned