कुख्यात बदमाश रहे गुलाम हुसैन की करोड़ो रुपये कीमत की संपत्ति कुर्क

डीएम के आदेश पर एसपी ने गाँव जाकर की 6 करोड़ 80 लाख 20 हजार रुपये कीमत की सम्पत्ति कुर्क, अपराधी के मरने के बाद उसकी चल अचल संपत्ति को किया है कुर्क

By: shivmani tyagi

Updated: 06 Aug 2020, 09:56 PM IST

रामपुर ( rampur news) कुख्यात बदमाश व खनन माफिया रहे गुलाम हुसैन की माैत के बाद पुलिस ने अब उसकी गैर कानूनी धंधों से कमाई गई कराेड़ाें रुपये कीमत की संपत्ति काे भी कुर्क कर लिया है।

यह भी पढ़ें: 9 व 10 अगस्त को रद्द रहेगी कोलकाता अमृतसर एक्सप्रेस ट्रेन, जानिए वजह

रामपुर डीएम की अदालत के आदेशों के अनुपालन में यह कार्रवाई हुई। पुलिस अधीक्षक ( SP rampur) शगुन गौतम खुद भारी पुलिस फोर्स ( rampur police) के साथ ग्राम दंडियाल मुस्तेकम पहुंचे। यहां करीब 6 करोड़ 80 लाख 20 हजार रुपये की सम्पत्ति को कुर्क कर लिया गया। संपत्ति पर बाेर्ड लगा दिया गया है जिस पर साफ शब्दों में लिख दिया गया है कि यह संपति कुर्क है। इतना ही नहीं पुलिस अभी गुलाम हुसैन की एक करोड़ 5 लाख बीस हजार रुपये कीमत की संपत्ति को तलाशनें में जुटी है।

यह भी पढ़ें: चलती कार बनी आग का गोला, परिवार ने कूदकर बचाई जान

एसपी शगुन गौतम के अनुसार वर्ष 2018 में दर्ज मुकदमा संख्या 675 में यह कार्रवाई हुई है। उन्हाेंने यह भी बताया कि, गिरोह बन्द एवं असामाजिक क्रियाकलाप ( निवारण ) अधिनियम-1986 की धारा 14 (1) में दिये गये प्रावधानों के अन्तर्गत अपराध से अर्जित 06 करोड, 80 लाख 20 हजार रूपये की सम्पत्तियों को कुर्क किया गया है।

यह भी पढ़ें: ऑनर किलिंग ! बेटी बाेली प्रेमी संग रहूंगी ताे पिता ने कर दी हत्या, श्मशान में जला दिया शव

गुलाम हुसैन उर्फ नन्हे पहलवान पुत्र शाहबुद्दीन निवासी ग्राम दढियाल मुस्तेहकम के खिलाफ थाना टाण्डा में गैंगेस्टर एक्ट के तहत मुकदमा लिखा गया था। गुलाम हुसैन उर्फ नन्हे पहलवान पर खनन में लिप्त रहकर अवैध रूप से धन अर्जित करने के आराेप हैं। 21 नवंबर 2019 को गुलाम हुसैन उर्फ नन्हे पहलवान की माैत हाे गई थी। मृतक गुलाम हुसैन उर्फ नन्हे पहलवान की मृत्यु होने के उपरान्त उसकी सभी चल व अचल सम्पत्ति उसके वारिसों के नाम हाे गई थी जिसे अब कुर्क कर लिया गया है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned