VIDEO: थर्मामीटर को लेकर अस्पताल में हो गया बवाल, देखें वीडियो

70 साल के एक बुजुर्ग जिला अस्पताल की इमरजेंसी में अपने बुखार का इलाज कराने के लिए आए थे। डॉक्टर ने बुजुर्ग शख्स का बुखार नापने के लिए थर्मामीटर लगाया था।

By: virendra sharma

Published: 18 Dec 2018, 04:04 PM IST

रामपुर. 70 साल के एक बुजुर्ग जिला अस्पताल की इमरजेंसी में अपने बुखार का इलाज कराने के लिए आए थे। डॉक्टर ने बुजुर्ग शख्स का बुखार नापने के लिए थर्मामीटर लगाया था। थर्मामीटर को लेकर डॉक्टर और मरीज के बीच में विवाद शुरू हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि पुलिस बुलानी पड़ गई। यहां पर बुजुर्ग को बजाय इलाज करने के डॉक्टर ने पुलिस स्टेशन भिजवा दिया। गुस्साए लोगों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया। उसके बाद मेंं बुजुर्ग को पुलिस ने छोड़ा। लेकिन आरोपी डॉक्टर के खिलाफ अभी तक जिला प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की।

यह पूरा मामला

नगर कोतवाली इलाके के राजद्वारा निवासी एम खान अपने बेटे के साथ ज़िला अस्प्ताल की इमरजेंसी गए थे। इमरजेंसी में तैनात डाक्टर ने एम खान का बुखार नापने के लिए धर्मामीटर लगा दिया। बाद में थर्मामीटर को बगल से निकालकर सीधे उनके मुंह मे लगा दिया। मरीज़ एम खान डाक्टर पर भड़क गए। डाक्टर ने तुरंत डायल 100 पर काल करके पुलिस बुला ली। पुलिस ने बुजुर्ग को थाने ले गई। जिसकी सूचना लगते ही मुहल्ले के लोग ज़िला अस्प्ताल की इमरजेंसी पहुंचे। जहां डॉक्टरों के खिलाफ नारेबाजी की। नारेवाजी को लेकर जिला अस्प्ताल के सीएमएस आर के नागर ने कहा कि मामले की जांच कराकर आरोपी डाक्टर के खिलाफ़ कार्यवाही की मांग की।

मरीज एम खान ने बताया कि थर्मामीटर को डॉक्टर ने मुंह में लगा दिया। विरोध करने पर डॉक्टर उलटा भड़क गया। हालांकि बाद में परिवार के लोगों ने जब हंगामा किया तब मुझे पुलिस ने रिहा कर दिया। उन्होंने डॉक्टर के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है। अस्पताल के सीएमएस बीएसए नागर ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। थर्मामीटर को साफ करके ही लगाया जाता है।

 

virendra sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned