UP Board Exam 2020: स्‍टूडेंट्स को सामान्‍य Hindi की जगह दे दिया दूसरा पेपर और कहा जल्‍दी करो

Highlights

  • Rampur के श्री राम इंटर कॉलेज पंजाबनगर में सामने आया मामला
  • केंद्र व्यवस्थापक व अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक को हटाया गया
  • कक्ष निरीक्षक को निलंबित कर दिया गया

रामपुर। यूपी बोर्ड (UP Board Exam 2020) की दूसरी पाली में मंगलवार (Tuesday) को सामान्‍य हिंदी (General Hindi) का पेपर था लेकिन श्री राम इंटर कॉलेज पंजाबनगर के परीक्षा केंद्र में स्‍टूडेंट्स को दूसरे विषय का प्रश्‍नपत्र दे दिया गया। इतना ही इस लापरवाही के बाद केंद्र व्यवस्थापक ने उनको इसे हल करने को भी कहा। इससे छात्रों का पूरा पेपर खराब हो गया।

डीएम से की शिकायत

बुधवार (Wednesday) को छात्रों ने इस बारे में डीएम से शिकायत की। डीआईओएस (DIOS) को इस मामले में जांच के आदेश दे दिए गए हैं। इस बारे में केंद्र व्यवस्थापक व अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक को ड्यूटी से हटा दिया गया है। लापरवाही बरतने पर कक्ष निरीक्षक को सस्‍पेंड कर दिया गया है। परीक्षा के दौरान लापरवाही का यह मामला श्री राम इंटर कॉलेज पंजाबनगर में सामने आया। इंटरमीडिएट (Intermediate) के आठ छात्रों का आरोप है कि वे मंगलवार को दूसरी पाली में जब एग्‍जाम देने के लिए गए तो उन्हें कक्ष निरीक्षक और परीक्षा केंद्र व्यवस्थापक ने उन्हें गलत पेपर पकड़ा दिया। उनको प्रश्‍नपत्र को जबरदस्ती हल करने का दबाव भी बनाया गया।

यह भी पढ़ें: Weather Alert: अगले 48 घंटे में बारिश का अलर्ट, सर्द हवाओं के साथ नीचे आएगा तापमान

यह कहा छात्रों से

छात्रों ने जब इस बात का विरोध किया तो उन्हें कहा गया कि अगर कुछ भी नहीं लिखोगे तो फेल हो जाओगे। जितना आता है, उतना लिख दो, पास हो जाओगे। इस वजह से छात्रों का पेपर खराब हो गया है। इस पर उन्‍होंने मंगलवार को डीएम से मुलाकात की। आरोप है कि छात्र विज्ञान वर्ग के हैं। उनका मंगलवार को सामान्‍य हिंदी का एग्जाम था, जबकि उन्हें आर्ट वर्ग का हिंदी साहित्य का प्रश्‍नपत्र दे दिया गया। छात्रों ने टीचरों से इस बारे में गुहार लगाई लेकिन उन पर कोई असर नहीं हुआ। जबरदस्ती उनसे वह पेपर हल करने को कहा गया।

यह भी पढ़ें: Indian Railway होली पर यात्रियों को भारी मुश्किल, 48 ट्रेनें अब 31 मार्च तक निरस्त

छह अन्‍य कक्ष निरीक्षक भी सस्‍पेंड

डीएम आंजनेय कुमार सिंह ने छात्रों की बात सुनकर जिला विद्यालय निरीक्षक (डीआईओएस) को जांच के आदेश दिए हैं। डीआईओएस विनोद कुमार का कहना है कि इस मामले में जांच के बाद केंद्र व्यवस्थापक तबस्सुम और अतिरिक्त व्यवस्थापक देव सिंह को हटा दिया गया है। उनकी जगह जैन इंटर कॉलेज के लेक्‍चरर वेदपाल सिंह को केंद्र व्यवस्थापक बनाया गया है। बोर्ड को भी गलत प्रश्नपत्र देने की जानकारी दी जाएगी। वहीं, डीएम आंजनेय कुमार सिंह का कहना है कि कक्ष निरीक्षक अनुराधा को सस्‍पेंड कर दिया गया है। इसके अलावा ड्यूटी पर नहीं जाने वाले छह अन्‍य कक्ष निरीक्षकों को सस्‍पेंड किया गया है।

Show More
sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned