यूपी: महिला और उसके बेटों का कराया धर्म परिवर्तन, नाई समेत तीन गिरफ्तार

कथित प्यार में एक महिला ने ना सिर्फ अपना धर्म बदलकर निकाह किया बल्कि अपने दोनों बेटों का भी धर्म परिवर्तन करा दिया। यह घटना जब गांव वालों को पता चली तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी। अब पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है जबकि तीन से अधिक फरार हैं।

By: shivmani tyagi

Updated: 13 Jun 2021, 07:11 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

रामपुर. एक विधवा महिला और उसके दो बच्चों का धर्म परिवर्तन कराए जाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने आरोपी युवक उसकी मां और बच्चों के अंग की खाल काटकर धर्म परिवर्तन कराने वाले नाई को गिरफ्तार कर लिया है। यह मामला क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।

ये है पूरा मामला

यह पूरी घटना कोतवाली शाहबाद क्षेत्र के गांव बरुआ की है। यहां एक महिला व उसके दो किशोर बेटों का धर्म परिवर्तन करा दिया गया। जब इस घटना का लोगों ने विरोध किया तो महिला ने कहा कि उसने अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन किया है। इसके बाद गांव के लोगों ने पुलिस को घटना की सूचना दे दी। पुलिस ने जांच की तो शिकायत ठीक निकली। इसके बाद पुलिस ने बच्चों के अंग की खाल काटकर उनका धर्म परिवर्तन कराने वाले नाई को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी युवक को भी गिरफ्तार किया है। इसके साथ ही पुलिस जांच में यह बात भी सामने आई कि महिला का धर्म परिवर्तन कराने वाले युवक के साथ उसकी मां भी शामिल थी। पुलिस ने आरोपी युवक की मां को भी हिरासत में लिया है।

यह भी पढ़ें: अपने नाराज कार्यकर्ताओं को खुश करने के लिए भाजपा देगी पद

इस तरह गिरफ्तार नाई समेत आरोपी युवकर और उसकी मां को न्यायालय के समक्ष पेश किया जहां से इन्हे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। आरोपी युवक का महफूज का पिता और महफूज का भाई फरार हैं। आरोप हैं कि इन महिला व उसके दो बेटों का धर्मपरिवर्तन कराया बाद में महिला महफूज का निकाह कराया है। निकाह के अगले दिन महफूज ने नाई को बुलाकर महिला के दोनों बेटों का भी धर्म परिवर्तन करा दिया। पुलिस अब इस मामले में निकाह पढ़ाने वाले काज़ी और वकील समेत गवाहों के खिलाफ भी कार्रवाई की तैयारी कर रही है।

यह भी पढ़ें: बैकफुट पर आया प्रशासन, साप्ताहिक बंदी का आदेश लिया वापस, अब रोजाना की तरह खुलेंगे बाजार

महफूज की मां का कहना है कि हमने तो पहले भी कई बार इस महिला को समझाया कि तू हमारे घर मत हमारे बेटे का पीछा छोड़ पर महिला मोहब्बत में इस कदर अंधी थी कि उसे कुछ नहीं दिख रहा था हमने बहुत मना किया पर हमारी एक नहीं मानी उसने अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन किया। अपनी मर्जी से निकाह किया अपनी मर्जी से अपने दोनों बेटों का धर्म करवाए। आरोपी युवक की मां ने कहा है कि सजा महिला को मिलनी चाहिए।

यह भी पढ़ें: 2022 में भी भाजपा की पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनेगी : स्वतंत्र देव
यह भी पढ़ें: भाजपा विधायक बोले, नेहरू के चलते आज़ादी के बाद भारत नहीं घोषित हो सका हिंदू राष्ट्र

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned