आने वाले 20-25 वर्ष की जरुरत को ध्यान में रख कर करें प्लानिंग:सीएम

आने वाले 20-25 वर्ष की जरुरत को ध्यान में रख कर करें प्लानिंग:सीएम

Prateek Saini | Publish: Jul, 13 2018 07:31:03 PM (IST) Ranchi, Jharkhand, India

मुख्यमंत्री ने राज्य के विकास के लिए कई योजनाओं की घोषणा की और अधिकारियों को जल्द से जल्द क्रियान्वयन करने का आदेश दिया...

रवि सिन्हा की रिपोर्ट...

(रांची): मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि शहर के विकास के लिए आनेवाले 20-25 वर्ष की जरुरतों के अनुसार प्लानिंग करें। इसे तेजी से लागू करें। डीपीआर और फाइलों में मामले को न उलझाए रखें। राज्य के शहर हमारे आन बान और शान हैं। बाहर से आने वालों में शहरों से राज्य की छवि बनती है इसलिए विशेष प्लानिंग और इसके समर्पित क्रियान्वयन की आवश्यकता है। राज्य की राजधानी रांची का विकास इस रूप में हो कि पूरे देश में एक रोल मॉडल बन सके। मुख्यमंत्री ने ये बातें शुक्रवार को रांची में झारखंड मंत्रालय में शहरी विकास व हाउसिंग विभाग के कार्यों की समीक्षा के दौरान कहीं।


मुख्यमंत्री ने कहा कि पैसे की कमी नहीं है, आवश्यकता है सही प्लानिंग की। पूरा रोड मैप तैयार किये बिना दिशाहीन कार्रवाई से कामों में देरी होती है। बरसात तक सभी योजनाओं की कागजी कार्रवाई को पूरा कर, बरसात के बाद धरातल पर काम शुरु करने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि रांची नगर में 20 फीट से चौड़ी सड़क का निर्माण केवल पथ निर्माण विभाग ही करेगा। नगर विकास विभाग यह कार्य पथ निर्माण विभाग को सौंप देगा।

 

रांची में आईएसबीटी और ट्रांसपोर्ट नगर जल्द बनेगा

मुख्यमंत्री ने रांची के सुकुरहुटु में 40 एकड़ जमीन पर ट्रांसपोर्ट नगर बनाने तथा 25 एकड़ में बस टर्मिनल बनाने की प्रक्रिया तेज करने का निर्देश दिया। वहीं बड़ा तालाब के पास उद्य्नोग विभाग के खाली पड़ी जमीन पर अरबन हाट बनाया जायेगा। उन्होंने एक माह का समय देते हुए कहा कि इनकी प्रगति समीक्षा फिर से करेंगे।

 

रांची में शुरु होगा नाईट मार्केट

मुख्यमंत्री ने कहा कि रांची में जयपाल सिंह स्टेडियम में नाइट मार्केट शुरु किया जाए। इससे रोजगार को बढ़ावा मिलेगा तथा शहर के लोगों को हर समय बाजार उपलब्ध होगा। रात्रि में मार्केट के बाद सुबह तीन बजे तक उस पूरे परिसर को ऐसा बना दिया जाएगा जैसे वहां कुछ था ही नही। साफ सफाई पर पूरा ध्यान रहेगा। परिसर में खेल मैदान के चारो तरफ बाजार लगायी जाएगी जो अस्थायी होगी और कुछ घंटों में नट वोल्ट से तैयार कर दी जाएगी। यहां पक्का निर्माण नहीं होगा। पारदर्शी तरीके से स्थान का एलॉटमेंट किया जायेगा। यहां से आनेवाले राजस्व से परिसर का विकास किया जायेगा।

 

कूड़े से तैयार होगी बिजली


मुख्यमंत्री ने कहा कि जहां कूड़ जमा होता है उससे परेशानी बढ़ती है। रांची में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के तहत बनानेवाले वेस्ट टू एनर्जी प्लांट को जबलपुर की तर्ज पर विकसित करने का निर्देश दिया। इस पूरे मामले पर अध्ययन कर यथाशीघ्र कार्रवा शुरु की जाए।

 

नक्शा पास करने में ना हो विलम्ब

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी व्यक्ति को नक्शा पास करने के लिए ना दौड़ाएं। अगर अद्य्नतन रसीद और म्यूटेशन के साथ अवेदन किया जाता है तो तय समय सीमा में नक्शा पास करें। अगर कोई गड़बड़ी अथवा भ्रष्टाचार की शिकायत पायी जाती है तो कड़ी कार्रवाई होगी।

 

जल्द तैयार हो सिवरेज प्लांट

बैठक में यह जानकारी दी गई कि आदित्यपुर में अक्टूबर 2019 तक सिवरेज प्लांट बनकर तैयार हो जायेगा। इसी प्रकार देवघर, गिरिडीह, हजारीबाग व चास में सेप्टेज मैनेजमेंट प्लांट मार्च 2019 तक तैयार हो जायेगा।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned