अमीरों को लूटते तो पहले भी देखा लेकिन पहली बार लूटते दिखाई दिए फकीर-हेमंत सोरेन

अमीरों को लूटते तो पहले भी देखा लेकिन पहली बार लूटते दिखाई दिए फकीर-हेमंत सोरेन

Prateek Saini | Publish: Sep, 06 2018 03:45:36 PM (IST) Ranchi, Jharkhand, India

पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गुरुवार को रांची में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि...

(पत्रिका ब्यूरो,रांची): झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के कार्यकारी अध्यक्ष और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने कहा है कि देश की जनता आज कल आतंकवाद से त्रस्त है। उन्होंने केंद्र सरकार से मांग की है कि पेट्रोल-डीजल को को जीएसटी में शामिल करें और राज्य सरकार वैट में 50 प्रतिशत की कमी करें।

 

इंधर महंगा कर सरकार कर रही आतंकवाद

पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गुरुवार को रांची में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि भारत सरकार एक लीटर पेट्रोल पर आज 19.50 रुपये टैक्स ले रही है, जबकि यूपीए सरकार में यह 9.30 रुपये के आसपास था। इसी कारण आज पेट्रोल-डीजल महंगा हो गया है। उन्होंने कहा कि चार वर्षों में भारत सरकार ने सिर्फ पेट्रोल-डीजल पर टैक्स लगाकर 10लाख करोड़ रुपये की वसूली देश की जनता से कर चुकी है, यह कर आतंकवाद नहीं है, तो क्या है? उन्होंने बताया कि कैग रिपोर्ट के अनुसार केंद्र सरकार ने वर्ष 2015-16 में सिर्फ डीजल-पेट्रोल से लगभग 2 लाख करोड़ रुपये देश की जनता के जेब से लूटा है। वहीं दूसरी ओर देश के उद्योगपतियों को 2.25 लाख करोड़ की कर छूट विभिन्न रूपों में दी गयी है ।

 

तेजी से बढ रही महंगाई,फकीर भी लुटते नजर आ रहे सोरेन

हेमंत सोरेन ने कहा कि अमीरों को लूटते तो पहले भी देखा गया था, लेकिन फकीरों को पहली बार लूटते देखा जा रहा है । जिस तेजी से महंगाई बढ़ी है, उस दर से मजदूरी में बढ़ोत्तरी नहीं हुई है । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आगामी 23 सितंबर को रांची में आयुष्मान भारत योजना की शुरूआत किये जाने के कार्यक्रम को लेकर पूछे गये एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि यह सरकार सिर्फ शिलान्यास और सत्यानाश की सरकार है ।

 

यह भी पढे: लाल किले में है हेड कॉनस्टेबल थान सिंह का स्कूल, हर महीने 1500 रुपए सैलरी से देकर पढ़ाते हैं गरीब बच्चों को

Ad Block is Banned