झारखंड विधानसभा में गूंजा भाजपा विधायक को धमकी मिलने का मामला

विधायक अनंत ओझा ने बताया कि 11 जुलाई से ही उन्हें एक खास विषय को उठाने पर धमकी दी जा रही है...

By: Prateek

Published: 20 Jul 2018, 04:47 PM IST

(पत्रिका ब्यूरो,रांची): झारखंड विधानसभा के मॉनसून सत्र के पांचवे दिन शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी विधायक अनंत ओझा को फोन पर जान से मारने की धमकी देने का मुद्दा उठा। विधानसभा की कार्यवाही आज पूर्वाह्न 11 बजे शुरू होने के साथ ही भाजपा के मुख्य सचेतक राधाकृष्ण किशोर ने इस मुद्दे को सभा में उठाते हुए कहा कि राजमहल विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित भाजपा विधायक अनंत ओझा को मोबाइल से फोन कर जान से मारने की धमकी दी जा रही है और ऐसी भद्दी-भद्दी गालियां दी जा रही है, जिसका जिक्र सदन में नहीं किया जा सकता। उन्होंने बताया कि कोई व्यक्ति अनंत ओझा को फोन कर उन्हें और उनके पूरे परिवार को खत्म कर देने की लगातार धमकी दे रहा है।


विधायक अनंत ओझा ने बताया कि 11 जुलाई से ही उन्हें एक खास विषय को उठाने पर धमकी दी जा रही है। उन्होंने बताया कि बांग्लादेशी घुसपैठ के मुद्दे को उठाने पर उन्हें और पूरे परिवार को नेस्तनाबूद करने की धमकी दी जा रही है, इसकी सूचना उन्होंने वहां के पुलिस अधीक्षक को भी दे दी है।


विपक्ष विधायकों ने इसे सरकार के लिए काफी शर्मनाक बताते हुए कहा कि आज राज्य में विधि व्यवस्था की स्थिति ऐसी है कि सत्तापक्ष के विधायक ही सुरक्षित नहीं है। नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने कहा कि भाजपा नेतृत्व वाली सरकार में भाजपा से जुड़े पंचायत अध्यक्ष को भी अंगरक्षक और सुरक्षा मुहैय्या कराई गई है, लेकिन इतनी शर्म की बात है कि दो-तीन दिन पहले ही राजधानी रांची में भाजपा नेता ही हत्या कर दी गई और हत्यारे अभी भी पुलिस की पहुंच से दूर हैं।

उन्होंने कहा कि सिर्फ बयानबाजी से काम नहीं चलेगा, स्थिति में सुधार की जरूरत है। नेता प्रतिपक्ष ने कटाक्ष करते हुए कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति आज इतनी खराब हो गई है कि देश के ख्याति प्राप्त सामाजिक कार्यकर्त्ता के साथ भी मारपीट की जाती है और पुलिस कुछ नहीं कर पा रही है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned