झारखंड: विधानसभा में 'जय सरना' के जवाब में गूंजा 'जय श्रीराम',जानिए क्या है मामला

झारखंड: विधानसभा में 'जय सरना' के जवाब में गूंजा 'जय श्रीराम',जानिए क्या है मामला

Prateek Saini | Updated: 24 Jul 2019, 07:17:24 PM (IST) Ranchi, Ranchi, Jharkhand, India

Jharkhand Assembly Monsoon Session: झारखंड विधानसभा ( Jharkhand Assembly ) सत्र का आज तीसरा दिन रहा। विपक्ष ने जमकर हंगामा किया...

(रांची,रवि सिन्हा): झारखंड विधानसभा ( jharkhand assembly ) के मॉनसून सत्र के तीसरे दिन आज विपक्षी सदस्य वन अधिकार कानून और वनों में रहने वाले जनजातीय परिवारों की सुरक्षा की मांग को लेकर लगातार शोर शराबा करते रहे। झारखंड मुक्ति मोर्चा ( Jharkhand Mukti Morcha ) के पौलुस सुरीन ( Polus Surin ) ने सदन में वन अधिकार कानून की रक्षा को लेकर जय सरना के नारे लगाए, जिसके जवाब में भाजपा के भी कई सदस्यों ने जय श्रीराम और भारत माता की जय के नारे लगाए।


सदर से बाहर निकलने पर कला-संस्कृति, पर्यटन और भू राजस्व मंत्री अमर कुमार बाउरी ने बताया कि पहले झामुमो विधायक पौलुस सुरीन की ओर से धार्मिक नारेबाजी की, जिसके प्रतिवाद स्वरूप सत्तापक्ष के कुछ सदस्यों ने भी नारेबाजी की।


कांग्रेस विधायक सुखदेव भगत ने सदर से बाहर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि जय श्रीराम का नाम भक्ति भाव से लिया जाता है, लेकिन सत्तापक्ष के सदस्यों का सदन में आचरण निंदनीय रहा और सदन की मर्यादा का ख्याल भी नहीं रखा गया। उन्होंने कहा कि जय श्रीराम का नारा उपहास उड़ाने के लिए लगाया गया इसमें श्रद्धा की कोई भावना नहीं थी। उन्होंने कहा कि आज लाखों आदिवासियों के विस्थापित होने का खतरा मंडरा रहा है, इस दिशा में सरकार को संवेदनशील होकर पहल करनी चाहिए।

झारखंड की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: Giridih: डायन-बिसाही बताकर पीटा, 2 महिलाओं समेत तीन को जबरन पिलाया मैला

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned