झारखंड बंद का रहा असर, हजारों बंद समर्थक गिरफ्तार

झारखंड बंद का रहा असर, हजारों बंद समर्थक गिरफ्तार
jharkhand bandh

| Publish: Jul, 05 2018 02:37:02 PM (IST) Ranchi, Jharkhand, India

भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक के खिलाफ संपूर्ण विपक्ष और कुछ सामाजिक संगठनों की ओर से आहूत एकदिवसीय झारखंड बंद का गुरुवार को राजधानी रांची समेत राज्यभर के विभिन्न जिलों में खासा असर रहा

(रवि सिन्हा की रिपोर्ट)
रांची। भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक के खिलाफ संपूर्ण विपक्ष और कुछ सामाजिक संगठनों की ओर से आहूत एकदिवसीय झारखंड बंद का गुरुवार को राजधानी रांची समेत राज्यभर के विभिन्न जिलों में खासा असर रहा। आईजी आशीष बत्रा ने बताया कि दोपहर तक विभिन्न जिलों से करीब 8500 बंद समर्थकों की गिरफ्तारी की सूचना है। जिन प्रमुख नेताओं को गिरफ्तार किया गया है, उनमें पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, बाबूलाल मरांडी, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार, विधायक सुखदेव भगत, झाविमो विधायक दल के नेता प्रदीप यादव, पूर्व मंत्री बंधु तिर्की, केएन त्रिपाठी, पूर्व राज्यसभा सांसद प्रदीप यादव, राजद की प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी, मासस विधायक अरूप चटर्जी शामिल हैं।

 

दुकानें एवं शिक्षण संस्थान बंद


बंद के आह्वान के कारण राजधानी रांची की अधिकांश दुकानें एवं व्यवसायिक प्रतिष्ठानें बंद रही। वहीं एहतियात के तौर पर अधिकांश निजी शिक्षण संस्थान ने बंद रखने की घोषणा की थी। हालांकि सरकारी कार्यालय, बैंक और सार्वजनिक प्रतिष्ठान खुले रहे, लेकिन उपस्थिति प्रभावित हुई। आवागमन सामान्य रहा, लेकिन लंबी की दूरी का बस सेवा परिचालन बाधित रहा। जबकि रेल सेवा पर बंद का कोई खास देखने को नहीं मिला।

 

दुमका में असर


उपराजधानी दुमका में बंद असरदार रहा। बस स्टैंड में सन्नाटा पसरा रहा। निजी वाहन भी नहीं चले। बाजार बंद रहे और कारोबारियों ने स्वेच्छा से अपने प्रतिष्ठान को बंद रखा। देवघर में बंद समर्थकों ने शताब्दी एक्सप्रेस समेत कई ट्रेनों को घंटों रोके रखा। दुकाने ,व्यापारिक प्रतिष्ठान, प्राइवेट स्कूल भी एहतिहातन बंद रहा। बस और वाहनों का भी परिचालन प्रभावित हुआ।लोहरदगा मे बंद का आंशिक असर रहा। बॉक्साइट ट्रकों और लंबी दूरी के वाहनों का परिचालन ठप्प रहा। जबकि दुकान, सरकारी कार्यालय, बैंक खुले रहे। यात्री ट्रेन का परिचालन सामान्य रूप से हो रहा है।

 

राजधानी एक्सप्रेस को रोकने का प्रयास


पाकुड़ में बंद का मिला जुला असर रहा। बोकारो में झाविमो कार्यकर्ताओं ने रांची-पटना-बोकारो मार्ग को जाम रखा। राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन को रोकने का प्रयास किया। साहेबगंज जिले में कई पैसेंजर ट्रेन और कुछ समय के लिए ब्रह्मपुत्र मेल को रोक दिया। चतरा जिले में विपक्षी दलों के नेताओं ने चतरा-गया व गया-रांची मुख्यपथ राष्ट्रीय राजमार्ग 99 पर स्थित शहर के हृदयस्थली केसरी चौक को जाम कर दिया। पश्चिमी सिंहभूम जिले में व्यापक असर देखने को मिला है। कहीं से भी कोई अप्रिय घटना की खबर नहीं मिली है। जिला मुख्यालय चाईबासा सहित पूरे जिले में व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद देखे गए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned