पारा शिक्षक हत्याकांड में दोषी विधायक एनोस एक्का को आजीवन कारावास, खत्म होगी विधानसभा की सदस्यता

पारा शिक्षक हत्याकांड में दोषी विधायक एनोस एक्का को आजीवन कारावास, खत्म होगी विधानसभा की सदस्यता
enos ekka file photo

| Publish: Jul, 03 2018 03:55:56 PM (IST) | Updated: Jul, 03 2018 04:27:28 PM (IST) Ranchi, Jharkhand, India

पारा शिक्षक मनोज कुमार हत्याकांड मामले में झारखंड पार्टी विधायक और पूर्व मंत्री एनोस एक्का को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है

(रवि सिन्हा की रिपोर्ट)
रांची। झारखंड में सिमडेगा जिले के एडीजे नीरज श्रीवास्तव की अदालत ने पारा शिक्षक मनोज कुमार हत्याकांड मामले में झारखंड पार्टी विधायक और पूर्व मंत्री एनोस एक्का को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। इस फैसले के बाद यह तय हो गया है कि एनोस एक्का की विधानसभा सदस्यता समाप्त हो जाएगी। सिमडेगा के एडीजे नीरज श्रीवास्तव की अदालत ने एनोस एक्का और एक अन्‍य धनेश बडाइक पर आजीवन कारावास की सजा के साथ एक लाख रुपए जुर्माना भी लगाया है। अदालत ने 30 जून को ही इस मामले में एनोस एक्का समेत दो लोगों को भादवि की धारा 302, 120 बी, 201 और 171 एफ के तहत दोषी करार दिया गया था।



एक्का जेल में हैं बंद

विधायक और पूर्व मंत्री एनोस एक्का को 27 नवंबर 2014 को पारा शिक्षक मनोज कुमार और हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया था और तब से वे जेल में बंद हैं। बताया गया है कि 26 जनवरी 2014 को मनोज कुमार का कोलेबिरा थाना क्षेत्र से अपहरण कर लिया गया था और दूसरे दिन उनका शव बरामद किया गया था। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी एनोस एक्का को गिरफ्तार कर लिया था। इस मामले में अदालत ने एक अन्य आरोपी गणेश को भी दोषी करार दिया है। उसके मोबाइल पर हुई बातचीत के आधार पर ही पुलिस को एनोस एक्का के खिलाफ साक्ष्य मिले थे और इसी आधार पर एनोस एक्का को दोषी करार दिया गया।

 

चौथे विधायक की सदस्यता होगी समाप्त



वर्ष 2014 में संपन्न झारखंड विधानसभा चुनाव के बाद अब तक तीन विधायकों कमल किशोर भगत, अमित महतो और योगेंद्र महतो को निचली अदालत द्वारा विभिन्न मामलों में दोषी करार दिए जाने और दो वर्ष या दो वर्ष से अधिक सजा सुनाए जाने के फैसले के कारण उनकी विधानसभा सदस्यता रद्द हो चुकी है। मौजूदा कानून के तहत अब एनोस एक्का की विधानसभा सदस्यता भी खत्म हो जाएगी। बताया गया है कि अदालत के आदेश की प्रति विधानसभा अध्यक्ष को मिलते ही एनोस एक्का की सदस्यता समाप्त किए जाने संबंधी औपचारिकता पूरी करते हुए निर्वाचन आयोग को सूचना भेज दी जाएगी और निर्वाचन आयोग छह महीने के अंदर उपचुनाव कराने की तैयारी शुरु कर देगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned