झारखंड में नहीं रुक रहीं मॉब लिंचिंग की वारदातें

Shailesh pandey

Publish: Jun, 14 2018 02:35:05 PM (IST)

Ranchi, Jharkhand, India
झारखंड में नहीं रुक रहीं मॉब लिंचिंग की वारदातें

बनकट्टी गांव में मंगलवार रात भैंस चोरी कर ले जा रहे पांच जनो में से दो जनो की ग्रामीणों द्वारा पीट पीटकर हत्या झारखंड में मॉब लिंचिंग की पहली घटना नहीं है।

(रवि सिन्‍हा की रिपोर्ट) रांची। बनकट्टी गांव में मंगलवार रात भैंस चोरी कर ले जा रहे पांच जनो में से दो जनो की ग्रामीणों द्वारा पीट पीटकर हत्या झारखंड में मॉब लिंचिंग की पहली घटना नहीं है। हाल ही के समय में ऐसे कई मामले सामने आए हैं। कभी बच्चा चोरी तथा कभी प्रतिबंधित मांस ले जाने के आरोप में मॉब लिंचिंग के मामले सामने आए हैं। एसे ही दो मामलों में अदालतें दोषियों को आजीवन कारावास की सजा भी सुना चुकी हैं।

 

मॉब लिचिंग की कई घटनाएं

झारखंड में हाल के समय में मॉब लिंचिंग की कई घटनाएं हो चुकी हैं। रामगढ़ जिले में 29 जून 2017 को प्रतिबंधित मांस ले जाने के आरोप में भीड़ ने अलीमुद्दीन नामक एक व्यक्ति की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। इस मामले में रामगढ़ जिले की एक फास्ट ट्रैक कोर्ट ने 11 आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई। बोकारो जिले में भी 4 अप्रैल 2017 को चंद्रपुरा थाना क्षेत्र के नर्रा गांव में बच्चा चोरी के आरोप में शमसुद्दीन अंसारी की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। इस मामले में तेनुघाट अनुमंडल की निचली अदालत ने सभी 10 आरोपियों को उम्र कैद की सजा सुनाई। इसके अलावा 18 मई 2017 को सरायकेला-खरसावां जिले के राजनगर इलाके में बच्चा चोरी के आरोप में भीड़ ने तीन लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी। उसी रात जमशेदपुर के बागबेड़ा थाना क्षेत्र के नागाडीह गांव में भी बच्चा चोरी के आरोप में तीन युवकों की भीड़ ने पीट-पीट कर मार डाला। इस दौरान एक महिला की भी पिटाई की गई, जिसकी एक महीने बाद इलाज के दौरान मौत हो गई।

यह था मंगलवार रात का घटनाक्रम

मंगलवार देर बनकट्टी गांव से पांच लोग 13 भैंस चोरी करके ले जा रहे थे, लेकिन ग्रामीणों की नींद खुल गई। ग्रामीणों के द्वारा शोर मचाए जाने पर
आस-पास के गांवों के लोग भी इक_ा हुए और चोरों का पीछा करने लगे। इसी क्रम में बनकट्टी गांव के समीप ग्रामीणों ने दो लोगों को पकड़ लिया और इतनी बेरहमी से दोनों की पिटाई की कि दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। मृतकों की पहचान पोड़ैयाहाट के तालझारी गांव निवासी मुर्तजा अंसारी और सिराबुद्दीन अंसारी के
तौर पर की गई।

 

चार आरोपी गिरफ्तार

गोड्डा के पुलिस अधीक्षक राजीव कुमार सिंह ने बताया कि मवेशी चोरी को लेकर घटना को अंजाम देने की बात सामने आई है। कानून को हाथ में लेने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस मामले में चार लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है और अन्य लोगों की पहचान की कोशिश की जा रही है।

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned