​​​​​चीन-भारत मिलकर कार्य करें तो वर्ल्ड ट्रेड में दोनों देशों की बड़ी भागीदारी होगी-सीएम दास

​​​​​चीन-भारत मिलकर कार्य करें तो वर्ल्ड ट्रेड में दोनों देशों की बड़ी भागीदारी होगी-सीएम दास

Prateek Saini | Publish: Sep, 04 2018 08:25:29 PM (IST) Ranchi, Jharkhand, India

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने चीनी कंपनियों को इसमें भाग लेने के लिए आमन्त्रित किया...

(रांची): झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास के नेतृत्व में चीन दौरे पर गए प्रतिनिधिमंडल की मंगलवार को सोंध थाओ, मिनिस्टर ऑफ इंटरनेशनल डिपार्टमेंट ऑफ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना के साथ वार्ता हुई। सोंध थाओ ने यह माना कि दोनों देश भारत और चीन की आबादी लगभग पूरे विश्व की आबादी की एक तिहाई है। वर्तमान में ये पूरे विश्व की जीडीपी का 21 प्रतिशत की हिस्सेदारी करते हैं। जीडीपी रेट और मजबूत हो सकती है यदि दोनों देश एक साथ मिल कर कार्य करें। वर्ल्ड ट्रेड में भी इन दोनों देशों की बहुत बड़ी भागीदारी हो सकती है। दोनों देशों का एक नेचुरल रिलेशेनशिप हैं। ये दोनों एक नेचुरल फ्रेंड हैं और दोनों एक दूसरे की आवश्यकताओं का सम्मान करते हैं। साथ ही पूरे विश्व की सामाजिक और आर्थिक प्रगति में दोनों देश एक साथ काम कर सकेंगे और एक साथ दोनों की इकोनॉमी भी आगे बढ़ पाएगी।

 

सोंध थाओ ने कहा कि झारखण्ड में निवेश का वातावरण, ग्रोथ रेट, ईज ऑफ डुइंग बिजनेस, बिजनेस इंवायरमेंट प्रशंसनीय है। उन्होंने कहा कि यद्यपि झारखण्ड एक नया राज्य है लेकिन ये 8.2 प्रतिशत के ग्रोथ रेट से बढ़ रहा है जो कि हाईली एप्रेसिएबल है। उन्होंने ये भी कहा कि झारखण्ड में निवेश की काफी संभावनाएं हैं।


मुख्यमंत्री रघुवर दास ने झारखण्ड राज्य में 29-30 नवंबर 2018 को आयोजित होने वाले ग्लोबल एग्रीकल्चर एंड फूड समिट 2018 के बारे जानकारी देते हुए कहा कि इसमें विश्व के कई देशों के एग्रीकल्चर एंड फूड प्रोसेसिंग से संबधित कई कंपनिया भाग लेंगी। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने चीनी कंपनियों को इसमें भाग लेने के लिए आमन्त्रित किया। सोंध थाओ के साथ हुई यह वार्ता बहुत ही सकारात्मक रही।

यह भी पढे: बाढ़ से तबाह केरल सरकार का ऐलान, राज्य में एक साल तक नहीं होगा कोई उत्सव

यह भी पढे: BJP विधायक राम कदम का विवादित बयान, पसंद की लड़की को अगवा कर रचा लो शादी

Ad Block is Banned