आंगनवाडियों पर नहीं पहुंच रहा सुबह 11 बजे तक नास्ता

मध्यप्रदेश के रतलाम जिले में आंगनवाड़ी केंद्रों के हाल बेहाल, जिम्मेदारों की अनदेखी से पसरी अव्यवस्था

By: Gourishankar Jodha

Published: 15 Dec 2019, 12:56 PM IST

रतलाम। मध्यप्रदेश के रतलाम शहर में इन दिनों जैसे आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का ठंड सी लग गई है, सुबह साढ़े दस बजे तक केंद्र नहीं खुल रहे तो बच्चे तो दूर सुबह 11 बजे तक केंद्रों पर नास्ता तक नहीं पहुंच रहा है। सर्र्दी का असर कहे या फिर जिम्मेदारों की अनदेखी, शहर के कुछ क्षेत्रों में आंगनवाडिय़ों पर सुबह 11 बजे तक नास्ता नहीं पहुंच रहा तो साढ़े 10 बजे तक आंगनवाड़ी खुल रही है। इसके बाद बच्चों के अते-पते नहीं है। भोजन और फिर थर्ड आहार कब और कैसे बच्चों को किस मिल रहे होंगे जिम्मेदार जाने। सुबह आंगनवाड़ी 9 बजे खोले जाने का समय है, लेकिन 10.30 बजे तक नहीं खुल रही है। यह हाल है बाजना बस स्टैंड कलीमी कॉलोनी सहित क्षेत्र की अन्य आंगनवाडिय़ों के, महिला बाल विकास विभाग परियोजना शहरी 2 कलीमी कॉलोनी वार्ड क्रमांक 17 की आंगनवाड़ी केंद्र के ताले सुबह 10.30 बजे तक नहीं खुले थे।

एक भी बच्चा नहीं आंगनवाड़ी पर ना ही नास्ता
कुछ समय बाद जब सहायिका बेबी बारुपाल केंद्र पर पहुंची, जिन्होंने बताया कि कार्यकर्ता रेखा सौलंकी छुट्टी पर है। मेरी भी तबियत खराब थी इसलिए देर से आई, नास्ता अब तक नहीं आया शायद वाहन खराब हो गया होगा। केंद्र पर 30.35 बच्चे दर्ज है, जिसमें से 7-8 बच्चे नियमित आते हैं। बच्चे क्यों नहीं आए तो बताया कि अब मैं लेकर आती हूं। जब नास्ता-भोजन और थर्ड आहार किस समय पहुंचता है तो बताया कि थर्ड आहार कभी-कभी चार बजे तक आता है। यहां तक की केंद्र के बोर्ड पर पूर्व जिला कार्यक्रम अधिकारी का नाम तक नहीं बदला है।

कहीं बच्चे नहीं तो कहीं एक दो
इसी प्रकार लक्ष्मीनगर क्षेत्र की आंगनवाड़ी पर सुबह 9.30 बजे तक कोई बच्चा नहीं पहुंचा था, कार्यकर्ता ने बताया कि सर्दी के कारण बच्चे देरी से आते हैं, लेकिन समय अभी बच्चों का नहीं बदला। शास्त्रीनगर आंगनवाड़ी केंद्र पर दो बच्चे मिले यहां भी वहीं हाल बच्चे सर्दी के कारण सुबह जल्दी नहीं आते हैं, जबकि नास्ता पहुंच गया है। राजस्व कॉलोनी आंगनवाड़ी केंद्र 1 व दो पर बच्चों को कार्यकर्ता सुबह का नास्ता करवाते नजर आई। उनका भी यहीं कहना था कि सर्दी शुरू हो चुकी है इस कारण छोटे बच्चे देरी से आते हैं।

शीघ्र समय बदला जाएगा
सर्दी शुरू हो चुकी है, आंगनवाडिय़ों का शीघ्र समय बदला जाएगा। दो-तीन दिन में जिलाधीश से अनुमति लेकर केंद्रों पर बच्चों के आने का समय बढ़ाया दिया जाएगा। जहां पर केंद्र नहीं खुले है, उन पर कार्रवाई की जाएगी।
सुनिता यादव, जिला कार्यक्रम अधिकारी, महिला बाल विकास विभाग रतलाम

Gourishankar Jodha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned