80 दिनों बाद बाबा महाकाल ने दिए दर्शन

दिनभर में 7 स्लॉट के दौरान 3500 श्रद्धालृ कर सकेंगे दर्शन, लंबी कतारों के साथ हुई दर्शनों की शुरूआत

By: sachin trivedi

Published: 28 Jun 2021, 12:31 PM IST

उज्जैन. दूसरी लहर के लॉकडाउन के बाद सोमवार को पहली बार उज्जैन के अधिशष्ठदाता बाबा महाकाल ने आम श्रद्धालृुओं को दर्शन दिए हैं। करीब 80 दिनों की लंबी अवधि के बाद कोरोना गाइडलाइन के तहत बाबा महाकाल के दर्शनों की शुरूआत हो गई है। पहले दिन सोमवार को दिनभर में 7 स्लॉट के जरिए करीब 3500 श्रद्धालु बाबा के दर्शन करेंगे। इसके लिए सुबह से ही मंदिर के बाहर दर्शनों की कतार लग गई है तो सोशल डिस्टेंस के पालन को लेकर भी मंदिर की सुरक्षा एजेंसी को काफी मशक्कत करना पड़ रही है।

 

patrika
IMAGE CREDIT: patrika

ऑनलाइन पंजीयन हुए, 8 बजे तक ही दर्शन
राजाधिराज भगवान महाकाल का दरबार आम भक्तों के लिए सोमवार से खुल गया। करीब ढाई माह बाद बाबा महाकाल भक्तों को दर्शन दे रहे हैं। इंदौर, रतलाम, शाजापुर, देवास सहित कई शहरों से श्रद्धालुओं के आने का क्रम शुरू हो चुका है। यूपी मुजफ्फरपुर के पांच लोग रविवार को ही आकर ठहर गए थे, ताकि सोमवार को दर्शन का लाभ ले सकें। वहीं यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए एक दिन पहले ही बड़े गणेश मंदिर तक बैरिकेडिंग कर दी गई, साथ ही डिस्टेंस रखने के लिए पेंट से निशान भी बने है।

patrika
IMAGE CREDIT: patrika

मंत्री यादव और सांसद फिरोजिया पहुंचे
सोमवार को बाबा महाकाल दर्शन की शुरूआत आम भक्तों के प्रवेश के साथ हुई। प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव और सांसद अनिल फिरोजिया भी मंदिर पहुंचे और बाबा महाकाल के दर्शन किए। सांसद यादव ने सोशल डिस्टेंस बनाए रखने तथा गाइडलाइन का पालन करने का अनुरोध करते हुए मास्क का वितरण भी किया तो कैनिबेट मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि आज बाबा ने सभी को दर्शन दिए हैं, हम आशा करते हैं कि बाबा के आशीर्वाद से समूची धार्मिक नगरी कोरोना जैसी महामारी से जंग जीत आगे बढ़ेगी।

patrika
IMAGE CREDIT: patrika

हरसिद्धि-मंगलनाथ में भी दर्शन व्यवस्था
हरसिद्धि, मंगलनाथ में भी दर्शन की व्यवस्था की गई है। भगवान महाकाल के दरबार में रौनक बढऩे वाली है। 28 जून से सभी को दर्शन प्राप्त होंगे। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन व स्लॉट द्वारा बुकिंग कराना होगी। बिना वैक्सीन प्रमाण पत्र दिखाए प्रवेश नहीं दिया जाएगा। महाकाल मंदिर में प्रवेश और निर्गम को लेकर कर्मचारी और निजी सुरक्षा गार्ड को तैनात रहने की हिदायत दी गई है। वहीं मंदिर आने वाले हर श्रद्धालु को मास्क लगाना व सैनिटाइज होना जरूरी होगा। प्री-बुकिंग अनुसार ही दर्शन व्यवस्था रहेगी।

patrika
IMAGE CREDIT: patrika
sachin trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned