भारत बंद: इधर महंगाई पर बंद, उधर फिर महंगा पेट्रोल-डीजल

भारत बंद: इधर महंगाई पर बंद, उधर फिर महंगा पेट्रोल-डीजल

Sachin Trivedi | Updated: 10 Sep 2018, 11:25:03 AM (IST) Ratlam, Madhya Pradesh, India

भारत बंद: इधर महंगाई पर बंद, उधर फिर महंगा पेट्रोल-डीजल

रतलाम. रलताम शहर में पेट्रोल-डीजल के भाव में तेजी का दौर जारी है। पिछले दिनों से पेट्रोल डीजल के भाव में तेजी बनी हुई है जो रोज नया रिकॉर्ड बना रहे हैं। इस महंगाई से आम आदमी परेशान है। कंपनियों ने रविवार आधी रात को पेट्रोल व डीजल में 23 पैसे लीटर की वृद्धि की है। इसके चलते सोमवार को रतलाम में पेट्रोल 86.46 रुपए व डीजल 76.73 रुपए लीटर बिकने लगा है। शनिवार को पेट्रोलियम कंपनियों ने पेट्रोल में 12 पैसे व डीजल में 11 पैसे की बढ़ोत्तरी की थी। इसके चलते रविवार को शहर में पेट्रोल 86.23 रुपए व डीजल 76.50 रुपए लीटर बिका। प्रदेश में 28 प्रतिशत वैट व चार प्रतिशत सेंस लग रहा है।

 

ऑटो मोबाइल्स कारोबारी एवं पूर्व अध्यक्ष संभागीय उद्योग संघ जयंत बोहरा ने बताया बढ़ते पेट्रोल डीजल के दाम से आम लोगों की कमर तोड़ दी है। हमारे यहां पर 28 प्रतिशत वैट व चार प्रतिशत सेंस लग रहा है। इस तरह प्रदेश में 32 प्रतिशत टैक्स लग रहा है जो अन्य प्रदेशों की तुलना में अधिक है। राजस्थान सरकार ने वैट टैक्स में चार प्रतिशत की कमी की है। इससे वहां पर पेट्रोल करीब तीन रुपए सस्ता हो जाएगा। प्रदेश सरकार को भी संवेदशीलता बरत कर टैक्स कम करना चाहिए। रविवार को शहर में पेट्रोल 86.23 रुपए व डीजल 76.50 रुपए लीटर बिका।

बंद के दौरान पंपों के बाहर खड़े है वाहन
भारत बंद के दौरान रतलाम के साथ ही मंदसौर और नीमच में भी अलग अलग दृश्य दिखाई दे रहे है। पेट्रोल पंप एसोसिएशन के समर्थन के कारण ज्यादातर पंपों के बाहर वाहनों की कतार लगी हुई है। वहीं, बंद समर्थक बाजार में सड़कों पर नारेबाजी कर रहे है। मंदसौर में पंपों के बाहर वाहन चालक पंप खुलने का इंतजार कर रहे है तो शहर के बीपीएल सहित अन्य चौराहों पर बंद समर्थकों व पुलिस के बीच बहस भी हो रही है। नीमच में बंद का असर नहीं दिख रहा है, शहर के बाजारों मेंं दुकानें खुल गई है। प्रदेश में 28 प्रतिशत वैट व चार प्रतिशत सेंस लग रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned