scriptBig Breaking: Amit Shah in Bhopal, intelligence in Ratlam | Big Breaking: भोपाल में अमित शाह, रतलाम मेंं खुफिया नजर | Patrika News

Big Breaking: भोपाल में अमित शाह, रतलाम मेंं खुफिया नजर

जयपुर दहलाने की साजिश मामले में ले सकते है स्टेटस रिपोर्ट

रतलाम

Published: April 22, 2022 09:24:34 am

रतलाम. मध्यप्रदेश के रतलाम में कट्टरपंथी संगठन सूफा के जयपुर दहलाने की साजिश में गिरफ्तारी और विस्फोटक बरामदगी मामले में केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह आज स्टेटस रिपोर्ट ले सकते हैं। 30 मार्च को सामने आए इस मामले मेंं अब तक रतलाम से करीब 8 आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं तो 12 किलो विस्फोटक के साथ ही कुछ मात्रा में विस्फोटक बनाने की सामग्री भी जब्त की गई है। इस बेहद गंभीर मामले की जांच राजस्थान एटीएस एवं मध्यप्रदेश एटीएस के साथ राज्य पुलिस और खुफिया एजेंसियां कर रही है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने भी महत्वपूर्ण इनपुट हासिल किया है। मामले में अभी भी करीब आधा दर्जन संदिग्ध फरार बताए जा रहे हैं, जिनकी तलाश में एटीएस भी जुटी हुई है।

patrika
patrika
patrika
IMAGE CREDIT: patrika

सीमावर्ती इलाके से पकड़ा गया था घातक विस्फोटक
मध्यप्रदेश और राजस्थान की राज्य सीमा से लगे निंबाहेड़ा में 30 मार्च को पुलिस ने वाहनों की जांच के दौरान रतलाम से पहुंची एक कार को रोकने के बाद गिरफ्तार किए गए सूफा के 3 आरोपियों से पूछताछ में बड़ा खुलासा किया था। रतलाम निवासी आरोपी जुबेर, सेफुल्ला और अल्तमस कार में सवार होकर अपने साथ करीब 12 किलो विस्फोटक ले जा रहे थे। शुरुआती जांच में सामने आया कि ये तीनों ही आरोपी कार जयपुर ले जाना चाहते थे और जयपुर में कार से विस्फोट करने की साजिश की साजिश रची गई थी। इनसे पूछताछ के बाद राजस्थान एटीएस की निशानदेही पर मध्यप्रदेश एटीएस ने मास्टरमाइंड कहे जा रहे इमरान खान सहित 2 अन्य को गिरफ्तार कर जांच टीम को सौंपा था।

patrika
IMAGE CREDIT: patrika

अब तक रतलाम में तीन बार एटीएस की छापामारी
साजिश का खुलासा होने के बाद राजस्थान एटीएस अब तक रतलाम में 3 बार छापामारी कर चुकी है। इस दौरान एटीएस ने 2 और संदिग्धों को गिरफ्तार किया है तो कुछ घरों व एक पोल्ट्री फॉर्म की तलाशी के दौरान कुछ मात्रा में विस्फोटक और इसे बनाने की सामग्री भी जब्ती में ली है। इनकी जांच प्रयोगशालाओं में कराई जा रही है, ज्यादातर सामग्री रतलाम के बाजार की दुकानों से खरीदना भी सामने आया है। इसी आधार पर राजस्थान एटीएस ने रतलाम के करीब आधा दर्जन दुकानदारों से भी मामले में पूछताछ की है। वहीं, गिरफ्तार आरोपियों की रिमांड अवधि पूरी होने के बाद राजस्थान एटीएस जांच फाइल तैयार कर रही है तो मध्यप्रदेश एटीएस ने अपनी रिपोर्ट की तैयारी कर ली है।

patrika
IMAGE CREDIT: patrika

जयपुर-रतलाम से लेकर दिल्ली तक हलचल
मामले में राजस्थान एटीएस लीड कर रही है तो मध्यप्रदेश एटीएस और दोनों ही राज्यों की पुलिस भी शामिल है। वहीं, खुफिया स्तर पर भी लगातार नजर रखी जा रही है, कुछ एजेंसियों ने तो राजस्थान और मध्यप्रदेश के कुछ अन्य शहरों में भी संदिग्धों को लेकर पूछताछ की है। भोपाल के मामले में भी इससे किसी कनेक्शन की तलाश की गई थी, हालांकि शुरुआती जांच में ऐसा सामने नहीं आया, लेकिन सूफा संगठन के कुछ सदस्य अन्य संगठनों के साथ भी काम कर रहे हैं, ये इनपुट एटीएस को मिला है। इन सब जांच के बीच शुक्रवार को केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह का भोपाल दौरा अहम हो गया है। माना जा रहा है कि शाह हाल के मामलों को लेकर जांच एजेंसियों से बात कर सकते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टोक्यो पहुंचे, भारतीय प्रवासियों ने किया स्वागत, जापानी बच्चे के हिन्दी बोलने पर गदगद हुए PMदिल्ली-NCR में सुबह आंधी और बारिश से कई जगह उखड़े पेड़, विमान सेवा प्रभावितज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थिति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.