बड़ा खुलासा : अस्पताल में लापरवाही, रेड जोन इंदौर से आए ठेकेदार, देखें VIDEO

कोरोना से जंग लडऩे के मामले में किस स्तर की लापरवाही हो रही है, यह इस घटना से सिद्ध होता है कि जिला अस्पताल में हाउस कीपिंग के टेंडर डालने के लिए रेड जोन व देशभर में चर्चा में आए इंदौर शहर से दो ठेकेदार आ गए। कुल 4 ठेकेदार जो आए वे सभी साथ-साथ ही जिला अस्पताल में रहे। इतना ही नहीं, यह ठेकेदार होटल में रुके, अब वहां अब तक कोई उन कमरों को बंद कराने नहीं पहुंचा है जहां यह रुके हुए थे।

By: Ashish Pathak

Published: 20 May 2020, 11:49 AM IST

रतलाम. कोरोना से जंग लडऩे के मामले में किस स्तर की लापरवाही हो रही है, यह इस घटना से सिद्ध होता है कि जिला अस्पताल में हाउस कीपिंग के टेंडर डालने के लिए रेड जोन व देशभर में चर्चा में आए इंदौर शहर से दो ठेकेदार आ गए। कुल 4 ठेकेदार जो आए वे सभी साथ-साथ ही जिला अस्पताल में रहे। यहां तक की अस्पताल के सिविल सर्जन से लेकर डिप्टी कलेक्टर शिराली जैन के संपर्क में भी आए। इतना ही नहीं, यह ठेकेदार होटल में रुके, अब वहां अब तक कोई उन कमरों को बंद कराने नहीं पहुंचा है जहां यह रुके हुए थे।

VIDEO यात्री ट्रेन चलाने से पहले रेलवे ने जारी की पांच शर्ते

Big disclosure

करीब चार माह पूर्व जब लॉकडाउन नहीं था तब अस्पताल ने हाउस कीपिंग याने की अस्पताल की सफाई कार्य के लिए निविदा निकाली थी। इसमं तीन सुपरवाइजर व 74 कर्मचारी तीन पाली में काम करने के लिए कलेक्टर दर पर जरुरत बताई गई थी। जब लॉकडाउन लगा तो कार्य को स्थगित कर दिया गया। अब जब रतलाम ग्रीन जोन में आया तो फिर से कार्य की शुरुआत हुई। बस इसी जल्दबाजी में इस बात का ध्यान नहीं रखा गया की नियम नहीं टूटे और इस दौरान नियम टूट गए।

इस दिन से बदलेगा आपके शहर में वेदर, होगी झमाझम बारिश

थर्मल स्क्रीनिंग तक नहीं की गई

इंदौर से कामथेन सिक्युरिटी, बुंदेलखंड सिक्युरिटी, प्रथम सिक्युरिटी, स्कॉट सिक्युरिटी के ठेके दार टेंडर डालने आए। इसमें कामथेन व बुंदेलखंड के जो ठेकेदार टेंडर की प्रक्रिया के लिए जिला अस्पताल पहुंचें दोनों इंदौर से आए थे। यहां तक की इन दो कंपनियों के कर्मचारी अन्य सिक्युरिटी कंपनी के कर्मचारियों के करीब ही बैठे। इसके अलावा यह सभी पूरे जिला अस्पताल में सोमवार व मंगलवार शाम तक रहे। इसकी वजह टेंडर जिस कंपनी को दिया गया बताते है, उसके नाम पर तकनीकी कारणों से आपत्ति लगना बताई गई। इस प्रक्रिया के दौरान अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. आनंद चंदेलकर व डिप्टी कलेक्टर शिराली जैन भी उसी कक्ष मंे रही, जहां इंदौर से आए ठेकेदार रहे। कर्मचारियों के अनुसार इन ठेकेदारों की थर्मल स्क्रीनिंग भी नहीं की गई।

रेलवे का बड़ा ऐलान : 22 मई से यात्रा होगी आसान, मिलेगी वेटिंग टिकट की सुविधा

विधानसौधा सहित विभिन्न स्थानों पर होगी थर्मल स्क्रीनिंग

सामाजिक दूरी का पालन किया
यह सही है कि अस्पताल में हाउस कीपिंग की निविदा प्रक्रिया हुई है, फिलहाल इसको अंतिम रूप से मंजूर नहीं किया गया है। जहां तक रेड जोन इंदौर से आने की बात है तो हमने उन लोगों से सामाजिक दूरी बनाई हुई थी।

- शिराली जैन, डिप्टी कलेक्टर

मानसून के पहले ही शुरू हो जाएगी भारी बारीश

अस्पताल में टेंडर का कार्य हुआ
अस्पताल में टेंडर का कार्य हुआ है। यह लॉकडाउन के पूर्व निकाले गए थे। इसमें ३ सुपरवाईजर व ७४ कर्मचारी अस्पताल की सफाई कार्य करेंगे। इसकी मंजूरी होना शेष है।
- डॉ. आनंद चंदेलकर, सिविल सर्जन

BREAKING रेलवे ने स्पेशल ट्रेन का टाइम टेबल बदला

हो गया निर्णय, इस दिन से चलेगी ट्रेन, यह रहेगा तरीका

एक मई से चलेगी ट्रेन, इन स्टेशन पर होगा ठहराव

मध्यप्रदेश के रतलाम में 12 घंटे में 13 मौत, पांच को कोरोना संदिग्ध माना

लॉकडाउन - 3.0 : आसान नहीं है मजदूरों के लिए श्रमिक ट्रेन में यात्रा

 Scout guides sanitize all the banks in the city to protect against corona virus
IMAGE CREDIT: gopal khemuka
Show More
Ashish Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned