भाजपा के पूर्व अध्यक्ष बजरंग पुरोहित की खदान में ही हुई थी ब्लास्टिंग

भाजपा के पूर्व अध्यक्ष बजरंग पुरोहित की खदान में ही हुई थी ब्लास्टिंग
BJP president Bajrang Purohit, Mine was in Blasting

vikram ahirwar | Updated: 20 May 2017, 11:46:00 PM (IST) Ratlam, Madhya Pradesh, India

- खदान में ब्लास्टिंग से उड़ा पत्थर सिर में लगने से मजूदर की मौत का मामला


रतलाम।
बजंली स्थित खदान में काम के बाद पानी पीकर राहत के लिए बैठे मजदूर की पास की खदान में ब्लास्टिंग के दौरान सिर पर पत्थर लगने से मौके पर ही मौत होने के मामले में पुलिस की गहनता से जांच शुरू हो गई है। प्रारंभिक जांच में पुलिस ने स्पष्ट किया है कि ब्लास्टिंग पूर्व भाजपा जिला अध्यक्ष बजरंग पुरोहत के बेटे की खदान पर हुई थी। जिसके पत्थर उछटकर लगने से उसकी मौत हुई है।

     थाना प्रभारी राजेश सिंह चौहान ने बताया कि सैलाना का कोटड़ा निवासी रामलाल मईड़ा (24) बजंली स्थित प्रेम सेठ की खदान पर ट्रोली में पत्थर भरने का काम कर रहा था। उसके बाद वह पानी पीकर पत्थर पर राहत लेने उसके साथी मजदूर अनिल, कचरू के साथ बैठा था। शाम करीब साढे पांच बजे की बात है। अचानक धमाके की आवाज आई और रामलाल के सिर पर पत्थर लगा और उसे लहुलुहान हालत में साथी लोग अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जिसे चिकित्सक ने मृत बताया था। मृतक का शनिवार सुबह पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है। वहीं मर्ग कायम कर मौत के मामले में जांच चल रही है।

भाजपा नेता के बेटे की खदान में ही हुई थी ब्लास्टिंग
थाना प्रभारी राजेश सिंह चौहान ने बातया कि ब्लास्ट महाकाली इंटप्राइजेज कंपनी की खदान पर ही हुआ है। यह जांच में स्पष्ट हुआ है, जो कि पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष बजरंग पुरोहित के बेटे के नाम है। अभी यह जांच की जा रही है कि कितनी डीप में ब्लास्ट किया गया और उन्हें कितने डीप में ब्लास्ट की अनुमति है। उसके पत्थर कितनी दूरी तक जाते है। इन सभी बिन्दुओं पर जांच की जा रही है।

कम से कम आठ से दस फीट गहरी हुई ब्लास्टिंग
नंदलई गांव के निवासी देवीलाल और उसके साथ मौजूद मजदूर अनिल व कचरू ने बताया कि मृतक रामलाल यहां पर सालभर से काम कर रहा था। वह प्रेम सेठ की खदान पर ट्रेक्टर-ट्रोली में पत्थर भरने का काम कर रहा था। वह पानी पीकर थोड़ी राहत के लिए साथी मजदूरों के साथ बैठा ही था कि इस दौरान धमाके की आवाज पीछे से आई और उसके सिर पर पत्थर लगा। जिसकी अस्पताल ले जाने पर मौत हो गई। मौके पर पता चला तो ब्लास्टिंग बजरंग पुरोहित की खदान पर होना मालूम हुआ। वहां से दूरी करीब दो-ढाई किलोमीटर है। इस हिसाब से लगता है कि आठ से दस फीट गहरा ब्लास्ट किया गया था। क्योकि दो या तीन फीट गहरे ब्लास्ट में एक किलोमीटर तक ही पत्थर उछट कर जाते है।

कार्रवाई और मुआवजे के लिए दिया एसपी को ज्ञापन
मृतक के परिजनों और समाज के लोगों ने एकत्रित होकर हादसे में मौत के जिम्मेदारों पर कार्रवाई करने की मांग करते हुए मुआवजे की मांग की और एसपी और कलेक्टर को ज्ञापन दिया। मृतक के भाई कोटड़ा निवासी कमल पिता रंगजी मईड़ा ने बताया कि बजरंग पुरोहित की खदान में ब्लास्टिंग के दौरान उसके भाई की सिर पर पत्थर लगने से मौत हुई है। परिवार को खदान मालिक के लोगों द्वारा धमकाया जा रहा है। मृतक के छह माह की गोद की पुत्री है। परिवार गरीब है। उसके परिवार को उचित मुआवजा दिलाकर अवैध तरीके से ब्लास्टिंग करने वालों पर कार्रवाई की जाए। एसपी ने मामले में जांच में दोषी खदान मालिक के खिलाफ कार्रवाई करने का पीडि़त परिवार को आश्वासन दिया है।



MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned