BJP नेताओं के करोड़ों के अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर, राजनीतिक द्वेष में कार्रवाई का आरोप

रतलाम जिले में शहर से 27 किलोमीटर दूर सातरुंडा गांव में प्रशासन ने भीजेपी नेताओं की अवैध कॉलोनी पर अतिक्रमणरोधी कार्रवाई की है।

By: Faiz

Published: 05 Apr 2021, 08:16 PM IST

रतलाम/ मध्य प्रदेश के रतलाम जिले में शहर से 27 किलोमीटर दूर सातरुंडा गांव में प्रशासन ने भीजेपी नेताओं की अवैध कॉलोनी पर अतिक्रमणरोधी कार्रवाई की है। इस दौरान प्रशासन ने करोड़ो का अवैध निर्माण ज़मीजोद किया। बता दें कि, प्रशासन द्वारा जमीदोज की गई कॉलोनी भाजपा की महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष की है। जबकि, जमीन पर ग्रामीण भाजपा के पूर्व विधायक मथुराललाल डामर के बेटे का भी दो बीघा जमीन पर मकान था, जिसे प्रशासन द्वारा जमीदोज किया गया। इसके अलावा, कार्रवाई के दौरान एक अन्य व्यक्ति कानया मकान और RO प्लांट भी तोड़ा गया।

 

पढ़ें ये खास खबर- कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन : कलेक्टर की रोक के बावजूद हुआ आयोजन, जागरूक लोग ही उड़ा रहे थे सोशल डिस्टेंस की धज्जियां

 

देखें खबर से संबंधित वीडियो...

क्या कहती हैं भाजपा महिला नेत्री

news

कॉलोनाइजर और बीजेपी महिला नेता पद्मा जायसवाल ने आरोप लगाया कि, ये कारवाई राजनीतिक द्वेषता के कारण हुई है। इस मामले में किसी पार्टी पदाधिकारी या नेता ने भी हमारी नही सुनी और ना ही मदद की है। जबकि मेने कभी संघठन में किसी पद के लिए कोइ डिमांड नही की, जो मुझे दायित्व सोपे गए, उन्हें मेने पूरी निष्ठा के साथ पूरा करने का प्रयास किया। महिला नेता ने बताया कि उनकी साढ़े 4 बीघा और पूर्व विधायक की 2 बीघा जमीन पर कार्य करने से पहले सारी अनुमति ली गई थी। डायवर्जन अनुमति पर जिन एसडीएम द्वारा अनुमति हस्ताक्षर कर अनुमति दी गई, उन्हीं एसडीएम ने आकर बगेर अनुमति निर्माण बताकर 3 करोड़ का निर्माण ध्वस्त कर दिया। महिला नेता ने बताया कि, 30 मार्च को कोलोनी बगेर अनुमति निर्माण को लेकर नोटिस दिया था और 7 दिन में जवाब मांगा था, 5 मार्च को 6वें दिन हम जवाब देने वॉले थे लेकिन प्रशासान सुबह आनन फानन में आकर कार्रवाई कर गया।

 

पढ़ें ये खास खबर- दिवाली के दिन से लापता था युवक, अब नर कंकाल मिलने से फैली सनसनी


इनपर भी कार्रवाई

news

इधर कोलोनी में 1 व्यक्ति ने 7 लाख में प्लाट खरीदकर मकान निर्माण भी कर लिया था। इसके अलावा एक आर.ओ प्लांट भी कोलोनी में संचालित था। प्रशासनिक कार्रवाई में इसे भी नष्ट कर दिया गया।

 

पढ़ें ये खास खबर- युवक बोला- 'कोरोना सरकार का खेल, लोग साथ दें तो करेंगे बड़ा आंदोलन', वीडियो वायरल


पूर्व विधायक ने कही ये बात

news

वहीं, पूर्व ग्रामीण भाजपा विधायक मथुराललाल डामर ने बताया कि, 2 बीगा ज़मीन मेरे पुत्र की थी। मकान भी निर्माण किया जा चुका था। सारी परमिशन प्रशासन से लेने के बाद निर्माण किया गया था, लेकिन इस साब के बावजूद भी अतिक्रमण रोधी कारर्वाई का कारण समझ नहीं आ रहा है।

 

पढ़ें ये खास खबर- 49 रन पर आउट हुआ बल्लेबाज, गुस्से में कैच पकड़ने वाले फील्डर के सिर पर किये बेट से कई वार, 24 घंटे से बेहोश


क्या कहते हैं जिम्मेदार?

news

प्रशासनिक अमले को साथ लेकर कार्रवाई के लिए आए एसडीएम मोहनलाल आर्य ने बताया कि, ग्राम पंचायत दत्ता गड़खेड़ा अंतर्गत ये सातरूंदा में कोलोनी बनी है, जिसे लेकर नोटिस दिया गया था लेकिन संतोषपूर्ण जवाब नही देने पर प्रशासन की ओर से कार्रवाई को अंजाम दिया गया है। इस मामले में कॉलोनाइजर एक्ट के तहत भी विकास की कोई अनुमति नही ली गई है।

bjp leader
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned